Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कैथल में पकड़ा फिरौती मांगने वाला गिरोह, कई केस हैं दर्ज

पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर आरोपियों की तलाश के लिए अलग-2 टीम गठित की गई तथा जांच के लिए सीआईए 1 कैथल को नियुक्त किया गया।

गिरफ्तार
X

गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

हरिभूमि न्यूज. कैथल

जिला पुलिस ने फिरौती मांगने वाले पूरे गैंग को गिरफ्तार किया है। एसपी लोकेंद्र सिंह ने इस गैंग को पकड़ने के लिए मास्टर प्लान तैयार किया था। एसपी ने बताया कि अब आखिरी पांच आरोपी पकड़े गए हैं। पहले आठ आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया था। इस समय पूरा गिरोह पुलिस की हिरासत में है। गत 21 नवंबर को शेखर शर्मा वासी कलायत को राजेश उर्फ राजू वासी गांव बाता ने फोन करके 15 लाख की फिरौती मांगी थी। फिरौती की रकम ना देने पर राजेश व प्रवीण उर्फ बिन्नी वासी कलायत ने राजू वासी गांव सेरधा से शेखर शर्मा को जान से मारने की धमकी दी थी।

इसके बाद गम 16 फरवरी को राजू ने अपने साथी सतीश, अजय, अभिषेक, अनिकेत वासी सेरधा के साथ मिलकर शेखर शर्मा पर उसकी कपड़े की दुकान के आगे जान से मारने के लिए फायर कर दिया। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर आरोपियों की तलाश के लिए अलग-2 टीम गठित की गई तथा जांच के लिए सीआईए 1 कैथल को नियुक्त किया गया। अभियोग में नामजद आरोपी राजेश व प्रवीण को 18 फरवरी को जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लिया गया तथा 5 दिन का पुलिस रिमांड प्राप्त किया। रिमांड के दौरान प्रवीण, राजेश ने शेखर शर्मा पर जान से मारने की वारदात को कबूला तथा वारदात में संलिप्त अन्य आरोपियों के नाम बताए। इसके बाद 5 मार्च को वारदात को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी राजू, सतीश, अजय अभिषेक, अनिकेत वासी सेरधा को गांव संतोख माजरा से गिरफ्तार किया गया।

पहले भी कर चुके वारदात

गत 11 फरवरी को कलायत में कपड़ा व्यापारी रिन्कू गर्ग को जान से मारने के लिए फायर किया था। 13 फरवरी को में बस अड्डा कलायत के पास कृष्णा अस्पताल के मालिक कृष्ण वासी खरक पांडवा से फोन करके 50,000 रुपये की फिरौती मांगी। फिरौती के पैसे ना देने पर जान से मारने की धमकी दी थी। इसके बाद 15 फरवरी को आरोपियों ने पानीपत व असंध के बीच एक गाड़ी छीन ली थी। 28 फरवरी को आरोपियों ने सोनीपत के सेक्टर 3 से एक कार नंबर एचआर 05 जैड-8690 छीनी थी।

Next Story