Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गिरोह सक्रिय : दिन में फेरी लगाकर करते रैकी और रात को घरों से करते हैं चोरी, ऐसे लोगों पर रखें नजर

रेवाड़ी में कोसनीवास रोड पर एक मकान का ताला तोड़कर नकदी व आभूषण चोरी करने के पांच आरोपित गिरफ्तार, पकड़े गए अधिकतर आरोपितों या तो झुग्गी झोपडि़यों में रहते हैं या फिर इनसे जुड़े हुए हैं।

गिरोह सक्रिय : दिन में फेरी लगाकर करते रैकी और रात को घरों से करते हैं चोरी, ऐसे लोगों पर रखें नजर
X

चोरी के आरोपित पुलिस टीम के साथ।

हरिभूमि न्यूज : रेवाड़ी

मॉडल टाउन थाना पुलिस ने रैकी के लिए दिन में फेरी, सुबह शाम आराम व रात में चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया है। खास बात यह है कि पकड़े गए अधिकतर आरोपितों या तो झुग्गी झोपड़ियों में रहते हैं या फिर इनसे जुड़े हुए हैं तथा चोरी की किए गए आभूषण की रिपेयर करने वाले को भी अपने साथ मिलाया हुआ है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने आरोपितों के कब्जे से चोरी किए गए लाखों के आभूषण बरामद कर लिए हैं।

मूल रूप से पश्चिमी बंगाल के रहने वाले आरोपितों में न्यू कलकत्ता व हाल विकास नगर की झुग्गी निवासी जलालुद्दीन उर्फ जनाब, हुगली के गांव मस्ताफुर निवासी शेख सदिक, मेदनीपुर के तेरोपिखिया निवासी शेख कासिम, दुखिन के गांव फटिकपुर निवासी फज्जल बोक्स तथा मेदनीपुर के गांव भगवानपुरा निवासी शेख सरीफ शामिल हैं। जांच अधिकारी ने बताया कि मंगलवार शाम नारनौल अपने घर से लौटे प्रताप सैनी ने कोनसीवास रोड स्थित मकान की खिड़की तोड़कर चोरी होने की शिकायत की थी। जिसमें घर से लाखों के गहने, नकदी और एटीएम क्रेडिट कार्ड चोरी हो गए थे।

मामला दर्ज कर जांच के बाद पुलिस ने विकास नगर की झुग्गी निवासी जलालुद्दीन उर्फ जनाब व गुड़ बाजार में आभूषण रिपेयर की दुकान चलाने वाले शेख सदीक को वीरवार को गिरफ्तार कर तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया। जिनसे पूछताछ में शेख कासिम, झुग्गी झोपड़ी विकास नगर निवासी शेख कासिम, झुग्गी झोपडी नजदीक किसान वाटिका खाली प्लाट निवासी फज्जल बोक्स तथा शेख सरीफ का नाम सामने आया। पुलिस ने शनिवार शाम तीनों को झुग्गी झोपड़ियों से चोरी किए गए सोने व चांदी के सभी आभूषण के साथ गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद चार आरोपितों को अदालत में पेश किया। जहां से चार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया, जबकि शेख कासिम का एक दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया। शेख सदीक गुड़ बाजार में आभूषण रिपेयर की दुकान चलाता है, जबकि बाकी चोरों आरोपित शहर में कबाड़ बिनते हैं।


Next Story