Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लखीमपुर खीरी में घायल किसान नेता तेजेंद्र विर्क से मिलने पहुंचे पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला

किसान नेता तेजेंद्र सिंह विर्क को रविवार गुरुग्राम स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया। बुधवार को इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओमप्रकाश चौटाला किसान नेता तेजेंद्र सिंह विर्क से मिलने गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में पहुंचे। इनेलो सुप्रीमो ने किसान नेता का कुशलक्षेम पूछा तथा उनके परिवार के सदस्यों से मुलाकात कर उन्हें हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया।

लखीमपुर खीरी में घायल किसान नेता तेजेंद्र विर्क से  मिलने पहुंचे पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला
X

यूपी के लखीमपुर खीरी में गाड़ी से कुचलने के बाद हुई हिंसा में बुरी तरह से घायल किसान नेता तेजेंद्र सिंह विर्क को रविवार गुरुग्राम स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया। बुधवार को इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओमप्रकाश चौटाला किसान नेता तेजेंद्र सिंह विर्क से मिलने गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में पहुंचे। उनके परिवार के सदस्यों से मुलाकात कर उन्हें हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया।

विदित रहे कि इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष नफे सिंह राठी और राष्ट्रीय उपप्रधान प्रकाश भारती राष्ट्रीय लोकदल के प्रधान महासचिव कुंवर पाल सिंह के साथ सोमवार को हिंसा स्थल पर तिकुनिया गांव पहुंचे थे। हिंसक घटना के बाद तिकुनिया गांव के गुरुद्वारा नानकसर में इकट्ठा हुए किसानों के साथ बैठ कर इनेलो नेताओं ने शहीद हुए किसानों की मौत पर अफसोस जताया। नफे सिंह राठी ने बताया कि इनेलो के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला पीठ में दर्द होने के कारण स्वयं नहीं आ सके। इस दौरान नफे सिंह राठी ने इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला एवं अभय सिंह चौटाला द्वारा हिंसा में शहीद हुए किसानों के लिए भेजा गया शोक संदेश दिया।

इनेलो नेताओं ने वहां मौजूद किसानों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि इनेलो पार्टी पहले दिन से ही भाजपा द्वारा बनाए गए तीन काले कृषि कानूनों के खिलाफ है और शहीद हुए किसान परिवारों के साथ खड़ी है। किसानों ने इनेलो के शीर्ष नेताओं द्वारा समर्थन देने और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को वहां भेजने पर धन्यवाद किया। इस घटना के बाद पूरे इलाके के लोगों में भाजपा के खिलाफ बड़ा रोष था। वहां मौजूद सैकड़ों किसानों की मौजूदगी में किसान नेताओं ने बताया कि कैसे भाजपा के लोगों ने पूरी वारदात को अंजाम दिया। किसान नेताओं ने बताया कि भाजपा के लोग किसान नेता तेजेंद्र सिंह विर्क को मारना चाहते थे। इस हमले में तेजेंद्र सिंह विर्क बुरी तरह से घायल हो गए थे।

Next Story