Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दीर्घायु के लिए मुख्यमंत्री मनोहर ने किया हवन यज्ञ, राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा, पढ़ें क्या कहा

मुख्यमंत्री ने कहा कि ये पंजाब सरकार की लापरवाही है। MHA ने भी जांच के लिए कमेटी बनाई है। हम भी राष्ट्रपति जी के नाम ज्ञापन सौंपेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दीर्घायु के लिए मुख्यमंत्री मनोहर ने किया हवन यज्ञ, राज्यपाल को  ज्ञापन भी सौंपा, पढ़ें क्या कहा
X

पंचकूला में माता मनसा देवी मंदिर (Mansa Devi Temple) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लंबी उम्र और उनकी सलामती के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Cm Manohar Lal) ने महामृत्युंजय यज्ञ किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के जीवन से खिलवाड़ करने की कोशिश की। माता मनसा देवी के मंदिर में मैंने प्रधानमंत्री की लंबी आयु और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की। इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता, पंचकूला मेयर कुलभूषण गोयल, भाजपा जिला अध्यक्ष अजय शर्मा सहित तमाम प्रशासनिक अधिकारी व भाजपा पदाधिकारी मौजूद रहे।

मनोहर लाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक को लेकर पंजाब सरकार की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश के प्रधानमंत्री को इस तरह के गंभीर सुरक्षा चूक का सामना करना पड़ा। पंजाब सरकार द्वारा सुनियोजित साजिश को किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जाएगा और लोकतांत्रिक व्यवस्था में विश्वास करने वाला कोई भी व्यक्ति पंजाब सरकार के इस असंवैधानिक व्यवहार को कभी माफ नहीं करेगा। मुख्यमंत्री एक प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे।

मनोहर लाल ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को सुरक्षा में इस बड़ी चूक के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि प्रधानमंत्री आम आदमी नहीं हैं। भारत के सभी प्रधानमंत्रियों में से नरेंद्र मोदी सबसे लोकप्रिय हैं। उन्होंने अनुच्छेद- 370 को खत्म करने, राम मंदिर का निर्माण, सीएए आदि जिस तरह के साहसिक फैसले लिए हैं, ऐसा कभी किसी ने सोचा भी नहीं था। मनोहर लाल ने कहा कि आज हमने राज्यपाल से मुलाकात कर पंजाब सरकार को बर्खास्त करने और पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगाने के लिए एक ज्ञापन सौंपा है। कांग्रेस सरकार के इस कृत्य की हर राजनीतिक दल ने कड़ी आलोचना की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिर से पंजाब का दौरा करने की बात कही है और हमे नहीं लगता कि वर्तमान सरकार सुरक्षा बहाल करने में सक्षम होगी।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में कई कैबिनेट मंत्री हरियाणा राजभवन पहुंचे और राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को ज्ञापन सौंपा।

और पढ़ें
Next Story