Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कलायत की ऐतिहासिक चौपाल पर पहली बार महिला ने बुलाई पंचायत, देखें पूरा मामला

सुमन राणा ने बताया कि करीब 6 माह पूर्व उसके पति राजबीर बिटटू की बिन्नी गैंग द्वारा हत्या कर दी गई थी। महिला ने कुछ पुलिस कर्मियों पर बिन्नी गैंग की सांठगांठ के आरोप लगाए हैं।

कलायत की ऐतिहासिक चौपाल पर पहली बार महिला ने बुलाई पंचायत, देखें पूरा मामला
X

 मृतक राजबीर की माता सरोज, पत्नी सुमन और 6 वर्षीय बेटी

हरिभूमि न्यूज. कलायत

विधवा बहु सुमन राणा और वृद्ध सास सरोज ने राजबीर सिंह बिटटू मर्डर के आरोपियों को फास्ट ट्रैक से सजा दिलाने के लिए कलायत स्थित ऐतिहासिक बड़ी चौपाल पर 21 मार्च को महापंचायत बुलाने का फैसला लिया है।

देश-प्रदेश की ऐतिहासिक चौपाल के रूप में पहचान रखने वाली चौपाल पर पहली बार किसी महिला ने महापंचायत आहूत की है। प्रभावित सुमन राणा ने बताया कि करीब 6 माह पूर्व उसके पति राजबीर बिटटू की बिन्नी गैंग द्वारा हत्या कर दी गई थी। महिला ने कुछ पुलिस कर्मियों पर बिन्नी गैंग की सांठगांठ के आरोप लगाए हैं। फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस चला न्याय की मांग को लेकर 21 मार्च को बड़ी चौपाल पर महापंचायत बुलाई गई है। राजबीर की पत्नी सुमन ने जल्द न्याय की मांग को लेकर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को कार्रवाई के लिए पत्र भी लिखा। 20 जुलाई 2020 को बिन्नी गैंग द्वारा पति की गोली मारकर हत्या करने की शिकायत पुलिस को दी गई थी। इस संदर्भ में मामला दर्ज करते हुए आरोपी को गिरफ्तार किया गया। इसी दौरान बिन्नी पर बीरबांगड़ा गांव में एक और व्यक्ति की हत्या का केस दर्ज हुआ था।

फिलहाल बिन्नी डबल मर्डर केस, फायरिंग, फिरौती व कुछ दूसरे मामलों में जेल की सलाखों के पीछे है। अब इस मामले ने नया मोड़ ले लिया है। मृतक राजबीर की पत्नी सुमन ने गैंग के साथ-साथ कुछ पुलिसकर्मियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। इनका कहना है कि उनके पति की हत्या में शामिल आरोपियों को बचाने में कुछ पुलिस कर्मचारियों द्वारा पूरा सहयोग किया जा रहा है। पूरे सबूतों के साथ वे लिखित शिकायत पहले भी पुलिस विभाग को दे चुकी हैं। अभी तक उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए उन्होंने माननीय पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश से निष्पक्ष जांच के साथ-साथ आरोपी बिन्नी व गैंग में शामिल लोगों को फांसी दिए जाने की मांग की है।

आरोपियों के खिलाफ की जा रही सख्त कार्रवाई: थाना प्रभारी

थाना प्रभारी जयवीर सिंह ने बताया कि पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। आपराधिक घटनाओं में संलिप्त लगभग एक दर्जन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि उन्हें किसी से भी डरने की कोई जरूरत नहीं है। संदिग्ध लोगों की गतिविधियों की शिकायत तुरंत पुलिस थाना में दें। निश्चित रूप से आपराधिक घटनाओं में संलिप्त लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई जारी रहेगी।



Next Story