Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पहले सीसीटीवी करता था बंद, फिर जेल में बंद किशोर के साथ जाम छलकाता था वार्डर

जेल अधीक्षक (Jail superintendent) की जानकारी में आने के बाद इस मामले की स्थानीय स्तर पर जांच की गई। जांच में वार्डर के साथ ही एक और जेल कर्मचारी दोषी पाया गया हैं।

पहले सीसीटीवी करता था बंद, फिर जेल में बंद किशोर के साथ जाम छलकाता था वार्डर
X

हरिभूमि न्यूज. सोनीपत। सिविल लाइन थाना क्षेत्र स्थित बाल कारागार (स्पेशल होम) में गंभीर अपराध में बंद किशोर के साथ जेल कर्मियों के दावत उड़ाने का मामला सामने आया है। जेल अधीक्षक की अनुपस्थिति (Absence) में वार्डर ने किशोर अपराधी को शराब पिलाई और खुद भी उसके साथ शराब पी।

जेल अधीक्षक की जानकारी में आने के बाद इस मामले की स्थानीय स्तर पर जांच की गई। जांच में वार्डर के साथ ही एक और जेल कर्मचारी दोषी पाया गया हैं। इनके खिलाफ विभागीय जांच शुरू करने के साथ ही शासन को रिपोर्ट भेज दी गई है। मामले में पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं।

शहर के आईटीआई चौक स्थित बाल सुधार गृह में कैदियों के साथ जेल के कर्मचारियों द्वारा जमकर शराब पीने और मस्ती करने का मामला प्रकाश में आया हैं। मामले का भंडा फोड़ होने के बाद अधिकारियों के संज्ञान में आया तो हड़कंप मच गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार 12 अक्टूबर की रात बाल जेल अधीक्षक (Jail superintendent) अपने निजी आवास पर थे। जेल में वार्डर राकेश कुमार की ड्यूटी थी, जबकि गेट पर कांस्टेबल नरेश कुमार तैनात था।

जेल कर्मचारियों का एक किशोर कैदी के साथ दावत खाने का प्रोग्राम बना। बाल जेल में शराब और खाना मंगवाया गया। रात नौ बजे जेल के सीसीटीवी बंद कर दिए गए। उसके बाद कैदी के साथ वार्डर ने शराब पीकर जमकर मस्ती की। उक्त किशोर कैदी कई गंभीर अपराध में विचाराधीन है, जबकि हत्या व जानलेवा हमले में उसको सजा हो चुकी है।

सीसीटीवी मिले बंद, शिकायत भेजी

जेल में दावत होने की बात कैदियों से होती हुई बाल जेल के सुपरीटेंडेंट को 15 अक्टूबर को मिली। उन्होंने अपने स्तर पर इसकी जांच की। सीसीटीवी कैमरा बंद करता हुआ वार्डर राकेश कुमार फुटेज में आया है।

उन्होंने इसकी जांच कर महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को इसकी रिपोर्ट भेज दी है। इसके साथ ही विभागीय जांच टीम गठित कर दी गई है। उसके बाद 18 अक्टूबर को इस मामले में वार्डर राकेश कुमार व किशोर कैदी के खिलाफ सिविल लाइन थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। जांच अधिकारी संजीव कुमार ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। आरोपित वार्डर अभी अवकाश पर गया है।

वर्जन

रात को बाल बंदी के पास बियर पहुंचाने व सीसीटीवी को बंद कर उसके पीने के आरोप का मामला सामने आया हैं। इस संबंध में आरोपित वार्डर के खिलाफ शिकायत दी गई हैं। इस संबंध में विभागीय जांच शुरू कर दी हैं। मामले की गंभीरता से जांच की जा रही हैं। - अजय कुमार बल्हारा, सुपरीडेंटेंड बोस्टन जेल।

Next Story