Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रोहतक में झोपड़ियों में लगी आग, परिवारों ने भागकर बचाई जान

दमकलकर्मियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया गया। आग की चपेट में आने से करीब 20 से अधिक झोपड़ी जलकर राख हो चुकी थी। जिन झोपड़ी में आग लगी है, उनमें सभी परिवार कूड़ा बीनने का काम करते हैं।

रोहतक में झोपड़ियों में लगी आग, परिवारों ने भागकर बचाई जान
X

रोहतक :ओमैक्स सिटी के नजदीक सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में भीषण आग लग गई। दमकलकर्मियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया गया। आग की चपेट में आने से करीब 20 से अधिक झोपड़ी जलकर राख हो चुकी थी। जिन झोपड़ियों में आग लगी है, उनमें सभी परिवार कूड़ा बीनने का काम करते हैं। सभी परिवारों ने समय रहते वहां से भागकर अपनी जान बचाई।

ओमैक्स सिटी के नजदीक कई साल से काफी परिवार झुग्गी-झोपड़ी बनाकर रह रहे थे। इसमें अधिकतर परिवार असम के रहने वाले हैं, जो यहां पर कूड़ा बीनने का काम करते हैं। सोमवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे अचानक झोपड़ी में आग लग गई। तेज हवा के कारण जो ही देर में आसपास की झोपड़ियों तक भी फैल गई। झोपड़ियों में साे रहे परिवारों ने वहां से बाहर निकलकर अपनी जान बचाई। उन्होंने पहले तो खुद ही आग पर काबू करने का प्रयास किया, लेकिन आग काबू होने की बजाय बढ़ती चली गई। जिसके बाद दमकल विभाग को सूचना दी गई। सूचना मिलने पर दमकलकर्मी मौके पर पहुंचे। एक के बाद एक आठ गाड़ियां मौके पर पहुंची। आइएमटी थाना पुलिस भी वहां पर पहुंच गई। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। तब तक 20 झाेपड़ी जल चुकी थी। जिसमें परचून की दो दुकान भी थी। आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। कोई इसे शार्ट सर्किट बता रहा है तो कोई कुछ और। इस मामले में किसी भी परिवार की तरफ से पुलिस में शिकायत नहीं दी गई है।

इनकी झोपड़ी जलकर हुई राख

आग की चपेट में आने से सद्दाम हुसैन आसैर असरूद्दीन की परचून की दुकान जली है। इसके अलावा शाहबुदीन, नासीर, सद्दाम, अब्दुल कलाम, वाजिद, रियाजुल, अब्दुल खालिक, गाजी, असगर, मुजम्मिल, सुल्तान और अफसर अली समेत कई अन्य की झोपड़ी जली है। इस हादसे के बाद अब सभी परिवार अपने परिचितों के पास चले गए हैं।

Next Story