Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Protest : कुंडली बॉर्डर पर किसानों के टैंट में लगी आग, सारा सामान जला

आग बुझाने के प्रयास में एक किसान के हाथ पैर व मुंह भी झुलस गए, कुंडली से पहुंची दमकल विभाग की एक गाड़ी ने आग पर काबू पाया।

Farmers Protest : कुंडली बॉर्डर पर किसानों के टैंट में लगी आग, सारा सामान जला
X

आग लगने से टैंट व सामान जलने के बाद सफाई करते किसान।

हरिभूमि न्यूज. सोनीपत

कुंडली बॉर्डर पर टैंट लगाकर आंदोलन को आगे बढ़ा रहे किसानों के साथ शनिवार को उस समय बड़ा हादसा घटित होने से टल गया, जब एक सिलैंडर में आग लग गई। आग लगने से टैंट व उसमें रखा सारा सामान जलकर राख हो गया। आग बुझाने के प्रयास में एक किसान के हाथ, पैर व मुंह भी झुलस गया। टैंट में आग लगने की सूचना दमकल विभाग को दी गई। कुंडली से पहुंची दमकल विभाग की एक गाड़ी ने आग पर काबू पाया। आग लगने से झुलसे किसान को नजदीकी अस्पताल से उपचार मुहैया करवाया गया है।

केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में करीब चार महीने से कुंडली बॉर्डर पर टैंट लगाकर आंदोलन को आगे बढ़ा रहे किसानों में पटियाला निवासी किसान दुग्गल भी हैं, जो यहां टैंट लगाकर रह रहे थे। उनके टैंट में घर की जरूरत का सारा सामान रखा हुआ था। किसान दुग्गल ने बताया कि टैंट के मुख्य गेट पर ही सिलेंडर रखा हुआ था, जो खत्म हो गया था। उसे बदलने के लिए जैसे ही पाइप निकाली, तभी अचानक उसमें आग लग गई। किसान दुग्गल ने आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिल पाई। आग बुझाने के प्रयास में वह झुलस गया। प्लास्टिक का तिरपाल होने के कारण आग तेज होती चली गई और टैंट में भी धुआं ही धुआं हो गया। किसान ने पीछे से तिरपाल को फाड़कर बाहर निकल अपनी जान बचाई। वहां मौजूद किसानों ने पानी की बाल्टियों से आग बुझाने का प्रयास किया और साथ ही दमकल विभाग को भी सूचना दी। दमकल कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया और झुलसे किसान को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल पहुंचाया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी गई।

सारा सामान राख

किसान दुग्गल ने बताया कि टैंट में आने-जाने का एक ही रास्ता बनाया था। उसी रास्ते पर आग लग गई। जिससे निकलने का रास्ता भी बंद हो गया था। टैंट भी धुएं से भर गया था। सांस लेना भी दूभर हो रहा था। मुश्किल से टैंट के पीछले हिस्से को काटकर बाहर निकल पाया। आग लगने से टैंट में रखी चारपाइयां, बिस्तरें, कपड़े, मोबाइल, संदूक, कूलर सहित अन्य सामान जलकर राख हो गया। गनीमत रही कि बड़ा हादसा होने से टल गया।

मच गई भदगड़

कुंडली बॉर्डर पर टैंट में आग लगने के बाद किसानों में भगदड़ सी मच गई। आग पर काबू पाने के लिए सभी बाल्टियों व अन्य बर्तनों में पानी लेकर दौड़ रहा था। दूसरी तरफ टैंट में फंसे किसानों को बचाने के लिए भी किसान चिल्ला रहे थे। गनीमत रही कि आग से बड़ा हादसा होने से टल गया। दमकल विभाग की गाड़ी जाने के बाद किसानों ने जले सामान को एक तरफ कर घटनास्थल की सफाई की, ताकि यहां दोबारा से टैंट लगाया जा सके।

Next Story