Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बहादुरगढ़ : फैक्ट्री में लगी भीषण आग, दमकल की 12 गाड़ियां भी बुझाने में रहीं असफल

एमआईई पार्ट-1 में श्रीश्याम प्लास्टिक नाम से फैक्ट्री है, कई प्लॉटों में फैली इस फैक्ट्री में जूते-चप्पल बनाए जाते हैं। आग लगने के कारण काफी माल जलकर राख हो गया।

बहादुरगढ़ : फैक्ट्री में लगी भीषण आग, दमकल की 12 गाड़ियां भी बुझाने में रहीं असफल
X

प्रतीकात्मक तस्वीर। 

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

आधुनिक औद्योगिक क्षेत्र भाग-1 में स्थित एक जूता-चप्पल फैक्ट्री में शुक्रवार की दोपहर भीषण आग लग गई। आग लगने के कारण काफी माल जलकर राख हो गया। दमकल विभाग की लगभग 12 गाड़ियां आग बुझाने में लगी हुई थी लेकिन शाम तक आग सुलग रही थी। आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं है। शार्ट सर्किट की आशंका जताई जा रही है।

दरअसल, दिल्ली निवासी रामकिशन सिंघल की एमआईई पार्ट-1 में श्रीश्याम प्लास्टिक नाम से फैक्ट्री है। कई प्लॉटों में फैली इस फैक्ट्री में जूते-चप्पल बनाए जाते हैं। शुक्रवार की दोपहर को रोजमर्रा की तरह यहां काम चल रहा था। करीब डेढ़ बजे अचानक फैक्ट्री के एक हिस्से में आग लग गई। ज्वलनशील पदार्थ होने के चलते आग तेजी से फैलती चली गई। हालांकि श्रमिकों ने अपने स्तर पर आग बुझाने के प्रयास किए थे लेकिन पूरी तरह से भड़क गई तो जैसे-तैसे अपनी जान बचाकर बाहर भागे।

सूचना मिलते ही नजदीक ही स्थित दमकल केंद्र से गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग बुझाने का काम शुरू हुआ। आग काफी भीषण थी, इसलिए बहादुरगढ़ की छह गाड़ियां भी कम पड़ गई। रोहतक, दादरी, भिवानी व बहादुरगढ़ की लगभग 12 गाड़ियों के सहारे दमकल कर्मी आग बुझाने में लगे हुए थे। शाम साढ़े चार बजे तक भी आग पूरी तरह से नियंत्रण में नहीं आ पाई थी। आग लगने से काफी तैयार व कच्चा माल जलकर राख हो गया। इससे पहले काफी माल को तो सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था। कुछ मशीनें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। आग पर नियंत्रण पाने में दमकल कर्मियों को काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा। फायर आफिसर विकास कुमार ने कहा कि आग पर काफी हद तक नियंत्रण पा लिया गया है। आगामी कुछ घंटों में बुझने की संभावना है। आग लगने के कारणों के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। फिलहाल किसी श्रमिक के भीतर फंसने की बात भी सामने नहीं आई है।

Next Story