Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भ्रूण लिंग जांच गिरोह का पर्दाफाश, महिला सहित तीन आरोपी गिरफ्तार

स्वास्थ्य विभाग की टीम पिछले तीन दिनों से लिंग जांच गिरोह को पकड़ने का प्रयास कर रही थी। टीम द्वारा तीन दिन पूर्व एक डीकॉय पेसेंट तैयार की गई।

भ्रूण लिंग जांच गिरोह का पर्दाफाश, महिला सहित तीन आरोपी गिरफ्तार
X
प्रतीकात्मक फोटो। 

हरिभूमि न्यूज : महेंद्रगढ़

लिंग जांच पर शिकंजा कसते हुए स्वास्थ्य विभाग ने गांव नांगल सिरोही में एक निजी अस्पताल पर छापा मारा। इस दौरान तीन लोगों को पकड़ा भी है। टीम के साथ पुलिस भी थी। इस बारे में विभाग ने पुलिस को लिखित में शिकायत दी है। पुलिस ने देर शाम तक मामला दर्ज नहीं किया था।

जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग ने गुप्त सूचना के आधार पर छापा मारकर लिंग जांच गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस के साथ रविवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने डिकॉय पेसेंट बनाकर लिंग जांच करने वाले गिरोह में एक महिला सहित तीन लोगों को पकड़ा। स्वास्थ्य विभाग की टीम पिछले तीन दिनों से लिंग जांच गिरोह को पकड़ने का प्रयास कर रही थी। टीम द्वारा तीन दिन पूर्व एक डीकॉय पेसेंट तैयार की गई। जब यह डिकॉय पेसेंट गिरोह के सदस्यों से मिली तो उन्होंने रविवार का समय दिया था।

इसके बाद डिकॉय पेसेंट ने रविवार को गिरोह के सदस्यों से संपर्क किया तो शहर के जाटावास मोड़ पर बुलाया गया। इसके बाद जब डिकॉय पेसेंज बताए गए पते पर जाटवास मोड़ पहुंची तो गाड़ी के अंदर ही गिरोह द्वारा लिंग जांच कर लड़की होने का दावा किया गया। इसके उपरांत जब टीम वहां पहुंची तो भीड़भाड़ अधिक होने के कारण गिरोह से एक महिला व एक पुरूष बाइक पर बैठकर गांव नांगल सिरोही स्थित एक निजी अस्पताल पर पहुंच गए। सड़क पर यातायात अधिक होने के कारण टीम काफी पीछे रह गई। इसके बाद अस्पताल के बाहर गिरोह के सदस्यों द्वारा प्रयोग में लाई गई बाइक खड़ी देख अंदर गए तो डिकॉय पेसेंट ने उनकी तथा प्रयोग की गई मशीन ही पहचान के साथ-साथ दिए गए नोटों को भी सीरियल नंबर के हिसाब से पहचान लिया। स्वास्थ्य विभाग की टीम में प्रभारी डॉ. हर्ष चौहान, डॉ. पवन यादव व अशोक कुमार शामिल थे।

और पढ़ें
Next Story