Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऐलनाबाद उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी कांडा को लेकर क्या बोले चढूनी, मिशन पंजाब की रणनीति भी बताई

गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि सरकार को सबक सिखाने के लिए किसानों द्वारा मिशन पंजाब शुरू किया जा रहा है। इस मिशन के तहत पंजाब के किसानों से अपील की जाएगी कि वे अपने अंदर से अच्छे उम्मीदवारों का चयन कर उन्हें चुनाव मैदान में उतारें।

ऐलनाबाद उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी कांडा को लेकर क्या बोले चढूनी, मिशन पंजाब की रणनीति भी बताई
X

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी का स्वागत करते संदीप काजला व अन्य किसान।

हरिभूमि न्यूज : फतेहाबाद

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि जब तक केन्द्र सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती और फसलों की एमएसपी पर गारंटी कानून लागू नहीं किया जाता, किसानों का आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि सरकार को सबक सिखाने के लिए किसानों द्वारा मिशन पंजाब शुरू किया जा रहा है। इस मिशन के तहत पंजाब के किसानों से अपील की जाएगी कि वे अपने अंदर से अच्छे उम्मीदवारों का चयन कर उन्हें चुनाव मैदान में उतारें। उन्होंने कहा कि आज राजनीति में गलत लोग आ चुके हैं जो किसानों के खिलाफ कानून बना रहे हैं। अगर राजनीति को साफ करना है तो अच्छे लोगों को आगे आना होगा। चढूनी फतेहाबाद में हिसार-सिरसा बाईपास पर किसान संगठनों द्वारा चलाए जा रहे लंगर स्थल पर किसानों से बातचीत करने के लिए रूके थे। उनके साथ सुमन हुड्डा भी मौजूद रही।

चढूनी ने स्वयं पंजाब का चुनाव न लड़ने की बात कही। सीएम द्वारा लट्ठ उठाने सम्बंधी ब्यान पर चढूनी ने कहा कि किसान शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन चला रहे हैं। किसान आज देश को बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं लेकिन सीएम ऐसे ब्यान देकर जनता को आपस में लड़वाने की कोशिश कर रहे हैं। ऐलनाबाद उपचुनाव पर उन्होंने कहा कि किसान ऐलनाबाद उपचुनाव में भाजपा-जजपा के उम्मीदवार गोबिंध कांडा का विरोध करेंगे और उनके खिलाफ पूरे विधानसभा क्षेत्र में प्रचार कर उन्हें वोट न देने की अपील करेंगे। गुरूघर से भाजपा नेताओं को निकाले जाने की घटना पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि किसान संगठनों द्वारा ऐसा कोई आह्वान नहीं किया गया था, कुछ युवाओं ने जोश में ऐसा किया होगा। वे सभी किसानों व युवाओं से अपील करते हैं कि भविष्य में वे ऐसा करने की बजाय शांतिपूर्ण तरीके से अपना विरोध जारी रखें।

Next Story