Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गन्ने के बीज की नर्सरी लगाने पर किसानों को मिलेगा अनुदान

किसान 26 मार्च तक विभाग की वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं, आवेदन स्वीकार्य के बाद 5 दिन के भीतर बीज नर्सरी की बिजाई करनी होगी।

गन्ने के बीज की नर्सरी लगाने पर किसानों को मिलेगा अनुदान
X

 सहायक गन्ना विकास अधिकारी डा. राजेंद्र प्रसाद।

हरिभूमि न्यूज . गोहाना

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (आरकेवीवाई) के तहत कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा गन्ना बीज नर्सरी लगाने के लिए किसानों को 5 हजार रुपये प्रति एकड़ अनुदान दिया जाएगा। अनुदान पहले आओ पहले पाओ की नीति के आधार पर मिलेगा। इस योजना तहत इच्छुक किसान 26 मार्च तक विभाग की वेबसाइट पर अपना आवेदन कर सकते हैं।

गोहाना के सहायक गन्ना विकास अधिकारी डा. राजेंद्र प्रसाद मेहरा ने जानकारी देते हुए बताया कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा आरकेवीवाई योजना के तहत वर्ष 2020-21 में जो किसान गन्ने की बीज नर्सरी लगाना चाहते हैं उनको प्रति एकड़ 5 हजार रुपये अनुदान राशि दी जाएगी। विभाग द्वारा यह अनुदान नोटिफाइ/रिकमेंडेड किस्मों पर ही दिया जाएगा। अनुदान पहले आओ पहले पाओ की नीति के आधार पर मिलेगा। इसके लिए किसान को 26 मार्च तक विभाग की वेबसाइट पर अपना आवेदन करना होगा। किसान को आवेदन स्वीकार्य होने के 5 दिन के भीतर ही बीज नर्सरी की बिजाई करनी होगी। डा. राजेंद्र प्रसाद मेहरा के अनुसार बीज नर्सरी के लिए प्रयोग में लाए जाने वाले गन्ने का बीज का मोइस्ट हॉट एयर तथा फफूंदीनाशक से उपचारित किया जाना अनिवार्य है। यदि किसान के पास बीज उपचार ड्रम उपलब्ध नहीं है तो उस अवस्था में इच्छुक किसान को 2 हजार रुपये या वास्तविक ख्ररीद मूल्य के आधार पर समान राशि का अनुदान दिया जाएगा। सहायक गन्ना विकास अधिकारी डा. मेहरा के अनुसार लक्ष्य पूरा न होने की अवस्था में किसान कृषि विकास अधिकारी गन्ना या सहायक गन्ना विकास अधिकारी के पास 31 मार्च तक अपना आवेदन जमा करवा सकते हैं। इस संदर्भ में किसान किसी भी तकनीकी जानकारी के लिए कृषि विकास अधिकारी गन्ना, सहायक गन्ना विकास अधिकारी या चीनी मिल के अधिकारियों से सम्पर्क कर सकते हैं।

Next Story