Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसानों ने भाजपा सांसद नायब सैनी की गाड़ी का किया घेराव, काले झंडे दिखाए

कुरुक्षेत्र सांसद नायब सिंह सैनी शाहाबाद के माजरी मोहल्ला में भाजपा कार्यकर्ता इंद्रजीत के घर पहुंचे थे। किसानों को इस बात की भनक लग गई। वे धरने से उठकर माजरी मौहल्ला में आयोजित कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए। किसानों के माजरी मोहल्ला पहुंचते ही सांसद अपनी गाड़ी से जाने लगे तो किसानों ने बीच रास्ते में ही सांसद की गाड़ी का घेराव कर दिया।

किसानों ने भाजपा सांसद नायब सैनी की गाड़ी का किया घेराव, काले झंडे दिखाए
X

सांसद नायब सैनी की गाड़ी का घेराव करते हुए किसान। 

हरिभूमि न्यूज. कुरुक्षेत्र

तीन कृषि कानूनों को लेकर किसानों में भारी रोष है। इसी विरोध के चलते किसानों ने भाजपा नेताओं का बहिष्कार किया हुआ है। मंगलवार को शाहबाद के माजरी मोहल्ला में एक आवास पर कार्यक्रम मेें पहुंचे सांसद नायब सैनी का किसानों ने जमकर विरोध किया और सांसद की गाड़ी का घेराव किया। इस दौरान किसानों ने सांसद नायब सैनी की गाड़ी पर हमला कर दिया जिससे उनकी गाड़ी का पिछला शीशा टूट गया। घटना की सूचना मिलते ही भारी पुलिसबल मौके पर पहुंचा।

जानकारी के अनुसार किसान शाहाबाद में जजपा विधायक रामकरण काला के आवास पर धरने पर बैठे थे। किसान पिछले कई दिनों से विधायक रामकरण काला के आवास पर धरना दे रहे हैं। कुरुक्षेत्र सांसद नायब सिंह सैनी शाहाबाद के माजरी मोहल्ला में भाजपा कार्यकर्ता इंद्रजीत के घर पहुंचे थे। किसानों को इस बात की भनक लग गई। वे धरने से उठकर माजरी मौहल्ला में आयोजित कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए। किसानों के माजरी मौहल्ला पहुंचते ही सांसद अपनी गाड़ी से जाने लगे तो किसानों ने बीच रास्ते में ही सांसद की गाड़ी का घेराव कर दिया और उनको काले झंडे दिखाए। किसानों ने भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सांसद ने गाड़ी से निकलने का प्रयास किया तो गुस्साएं किसानों ने गाड़ी को घेर लिया। इसी बीच किसी ने गाड़ी का शीशा तोड़ दिया। सांसद इसके बाद निकल गए।

किसानों ने कहा कि भाकियू तीनों कृषि सुधार कानूनों का विरोध कर रही है। भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी पहले भी कई बार भाजपा-जजपा नेताओं को लोगों के रोष को देखते हुए कार्यक्रमों से दूरी बनाकर रहने की बात कह चुके हैं। बावजूद इसके कार्यक्रम किए जा रहे है। बता दे कि गुरनाम सिंह चढूनी का गृह क्षेत्र शाहाबाद है।

Next Story