Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसान ने तीन कृषि कानूनों के विरोध में गेहूं की फसल पर चलाया ट्रैक्टर, कहा सरकार गेहूं से परेशान, अब नहीं बोएंगे

किसान ने तीन कृषि कानूनों के विरोध में अपनी साढ़े तीन एकड़ फसल पर ट्रैक्टर चलाकर सरकार से तीन कृषि कानून वापस लेकर किसानों के लिए नई नीति बनाने की मांग की है।

किसान ने तीन कृषि कानूनों के विरोध में गेहूं की फसल पर चलाया ट्रैक्टर, कहा सरकार गेहूं से परेशान, अब नहीं बोएंगे
X

महम के गांव भैणी सुरजन में खड़ी फसल पर ट्रैक्टर चलाता किसान।  

हरिभूमि न्यूज : महम

खंड के गांव भैणी सुरजन में एक किसान ने तीन कृषि कानूनों के विरोध में अपनी साढ़े तीन एकड़ फसल पर ट्रैक्टर चलाकर सरकार से तीन कृषि कानून वापिस लेकर किसानों के लिए नई नीति बनाने की मांग की है।

किसान मंदीप पुत्र रणबीर ने तीन साढे तीन एकड़ गेहूं की फसल पर ट्रैक्टर चलाकर नष्ट करते हुए कहा कि सरकार किसान की फसल से परेशान है। खासकर गेहूं की फसल को वह देखना ही नहीं चाहती। यही कारण है कि सरकार ने किसान के विरूध कानून बनाकर उसे बरबाद करने की योजना है। उसने कहा कि गेहूं की फसल पर जो भी खर्च लगना था वह सारा किया। लेकिन अब दुख इस बात का है कि इसे नष्ट करना पड़ रहा है। उनका कहना था कि उसके पास 22 एकड़ में गेहूं की फसल है वह सिर्फ दो एकड़ परवार के लिए रखकर बाकी सारी पर ट्रॅैक्टर चलाया जाएगा।

रामनिवास, श्रीओम, बलजीत, सुरेंद्र ,महाबीर,प्रकाश, धोला आशीष ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने आदेश दिया था कि अपनी फसल को जला दें। लेकिन जलाने से वातावरण खराब होता है इस लिए ट्रैक्टर चलाया गया है। उनका कहना था कि गांव के काफी किसान कृषि कानूनों के विरोध में अपनी फसल बरबाद करना चाहते हैं।

Next Story