Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसान नेताओं ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर पर आंदोलन को भड़काने का आरोप लगाया

किसान कॉर्डिनेशन कमेटी हरियाणा के नेताओं ने टीकरी बॉर्डर पर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने बताया कि 26 जनवरी की तैयारी के लिए 12 जनवरी को विकास सीसर के नेतृत्व में भिवानी में हजारों ट्रैक्टरों के साथ ट्रैक्टर मार्च निकाला जाएगा

किसान नेताओं ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर पर आंदोलन को भड़काने का आरोप लगाया
X

बहादुरगढ़ : पत्रकारों के समक्ष अपनी बात रखते हरियाणा के किसान नेता।

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

किसान कॉर्डिनेशन कमेटी हरियाणा के नेताओं ने सोमवार को टीकरी बॉर्डर पर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर पर आंदोलन का बांटने की कोशिश करने का आरोप लगाया। उन्होंने हरियाणा सरकार से करनाल और हिसार में किसानों पर दर्ज किए गए मुकदमे वापिस लेने की मांग भी की। साथ ही इस्तीफे की पेशकश करने वाले विधायकों से किसान नेताओं ने 26 जनवरी से पहले इस्तीफा देकर किसानों के साथ आने का आह्वान किया।

सोमवार को भारतीय किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष विकास सीसर, हरियाणा किसान मंच के प्रह्लाद सिंह, भारतीय किसान यूनियन नैन गुट के जोगेंद्र नैन और सोशल मीडिया संभाल रहे अनूप चनोत ने पत्रकारों के सामने अपनी बात रखी। किसान नेताओं ने कैमला के घटनाक्रम के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि भाजपा सरकार किसान आंदोलन को तोड़ने के लिए ऐसे कार्यक्रम कर रही है। उन्होंने हिसार व कैमला में किसानों के विरुद्ध दर्ज किए मुकदमों को झूठा और विद्वेषपूर्ण बताते हुए तुरंत वापिस लेने की मांग की।

हरियाणा के किसान सगंठनों के संयुक्त मोर्चा ने विधायक जोगीराम सिहाग, अभय चौटाला, रामकरण काला से इस्तीफे की पेशकश करने की बजाय तुरंत विधायक पद से त्यागपत्र देने की अपील की। उन्होंने साफ किया कि जो विधायक पद छोड़कर किसानों के साथ आएगा, किसान उन्हें सीने से लगाएगा। साथ ही बताया कि 26 जनवरी की तैयारी के लिए 12 जनवरी को विकास सीसर के नेतृत्व में भिवानी में हजारों ट्रैक्टरों के साथ ट्रैक्टर मार्च निकाला जाएगा। वहीं 15 जनवरी को मंदीप नथवान के नेतृत्व में सिरसा से दिल्ली तक एक हजार ट्रैक्ट्ररों के साथ मार्च किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 23 जनवरी तक हर गांव से हजारों ट्रैक्टर दिल्ली बॉर्डर पर पहुंच जाएंगे।

Next Story