Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसान नेता कमल सिंह मांढी का निधन, चार दशक किसानों के लिए किया संघर्ष

उन्होंने किसान संघर्ष समिति का गठन किया था। बिजली, पानी से लेकर किसानों की मुख्य समस्याओं को प्रथमिकता से उठाया। किसानों के हर छोटे व बड़े आंदोलन में कमल सिंह की भूमिका अहम होती थी। वे किसान आंदोलन में शुरू से आंदोलनरत थे।

किसान नेता कमल सिंह मांढी का निधन, चार दशक किसानों के लिए किया संघर्ष
X

किसान नेता कमल सिंह मांढी ( फाइल फोटो)

चरखी दादरी : किसान संघर्ष समिति के संयोजक वयोवृद्ध किसान नेता कमल सिंह मांढी का बीती रात ह्रदय गति रुकने से निधन हो गया। मांढी पिछले चार दशक से किसान हितों के लिए संघर्ष कर रहे थे। तीन कृषि बिलों के लिए चल रहे आंदोलन में भी वे अग्रणी भूमिका निभा रहे थे। उनके निधन पर राजनीति व सामाजिक लोगों ने शोक जताया। शनिवार को उनके पैतृक गांव मांढी में अंतिम संस्कार किया गया।

किसान नेता कमल सिंह पिछले चार दशक से चार दशक से किसान हितों के लिए संघर्ष कर रहे थे। उन्होंने किसान संघर्ष समिति का गठन किया था। बिजली, पानी से लेकर किसानों की मुख्य समस्याओं को प्रथमिकता से उठाया। किसानों के हर छोटे व बड़े आंदोलन में कमल सिंह की भूमिका अहम होती थी। जारी किसान आंदोलन में शुरू से आंदोलनरत थे।

उनके निधन पर किसान नेता विजय सांगवान ने कहा कि कमल सिंह ने ताउम्र किसान व कमेरे वर्ग के लिए संघर्ष किया। उनके किसानों के लिए किए संघर्ष को कभी भुलाया न जा सकता। आज एक बहुत ही ईमानदार व संघर्षशील किसान नेता खो दिया है। किसान वर्ग के लिए क्षति अपूरणीय है। उनके अंतिम संस्कार में पूर्व विधायक सुखविंदर, पूर्व विधायक नृपेंद्र सिंह, किसान नेता डॉ विजय सांगवान सहित बड़ी संख्या में किसानों ने हिस्सा लिया।

Next Story