Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Fraud in Bahadurgarh : फॉर्च्यूनर गाड़ी में सवार होकर आए फर्जी अधिकारी, दुकानदार को भय दिखाकर छह लाख हड़पे

जब पीडि़त दुकानदार को फर्जी अधिकारियों का सच पता चला तो उसने पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

Fraud in Bahadurgarh : फॉर्च्यूनर गाड़ी में सवार होकर आए फर्जी अधिकारी, दुकानदार को भय दिखाकर छह लाख हड़पे
X

बहादुरगढ़ : गांधी मार्केट में स्थित लकसे पंसारी की दुकान।

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

गांधी मार्केट में दुकानदार के साथ ठगी की वारदात हो गई। लग्जरी गाड़ी में सवार होकर आए शातिरों ने खुद को वाइल्ड लाइफ आफिसर बताया और केस दर्ज कराने का भय दिखाकर छह लाख रुपए हड़प लिए। जब पीडि़त दुकानदार को फर्जी अधिकारियों का सच पता चला तो उसने पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

वारदात विनीत गुप्ता के साथ हुई है। अग्रवाल कॉलोनी के निवासी विनीत की गांधी मार्केट में लकसे नाम से पंसारी की दुकान है। जानकारी के अनुसार, रविवार की शाम को एक फॉर्च्यूनर गाड़ी इनकी दुकान के नजदीक आकर रुकी। गाड़ी में तीन युवक सवार थे। दो युवक बाहर आए और कुछ सामान मांगा। जब वह सामान निकालने लगा तो तभी मामला गड़बड़ाने लगा। आरोप है कि दो में से एक युवक हाथ में थैला था। उस युवक ने थैला खोला और बोला कि यह सामान तुम्हारी दुकान में मिला है। तभी युवक ने अपना नाम अभिषेक बताया और कहा कि वह वाइल्ड लाइफ आफिसर (इंस्पेक्टर) है। अपना आई कार्ड दिखाया। दूसरे युवक ने अपना नाम दीपक बताया। खुद को अधिकारी बताने वाले शातिर उसे थाने के पास ले गए। थाने के बाहर गाड़ी में ही उसे एफआईआर दर्ज कराने की धमकी दी। एफआईआर और भय दिखाकर विनीत और उसके चाचा से छह लाख हड़प लिए।

शातिरों ने थैले में क्या दिखाया, इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। पुलिस भी इस बारे में कुछ भी बोलने से बच रही है। लेकिन चर्चा है कि थैले में कोई प्रतिबंधित वस्तु थी। जिसका डर दिखाकर ही शातिर आसानी से अपने मंसूबों में कामयाब हो गए। उधर, विनीत की शिकायत पर लाइनपार थाने में धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज हुआ है।

और पढ़ें
Next Story