Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Panipat : टेक्सटाइल में 75 फीसद स्थानीय लोगों को रोजगार देने से उद्यमियों का इंकार

चैंबर ऑफ कॉमर्स के उप प्रधान मोहन लाल गर्ग ने कहा कि सरकार का स्थानीय लोगों को 75 प्रतिशत रोजगार देने का फैसला उन्हें मंजूर नहीं है। इससे उद्योग प्रभावित होंगे। पहले ही उद्योग आर्थिक मंदी से गुजर रहे हैं। सभी औद्योगिक एसोसिएशन इसका पूरजोर विरोध करती है। अगर सरकार ने इस फैसले को वापस नहीं लिया तो भविष्य में सरकार के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा।

Panipat : टेक्सटाइल में 75 फीसद स्थानीय लोगों को रोजगार देने से उद्यमियों का इंकार
X
प्रतीत्तात्मक फोटो

हरिभूमि न्यूज : पानीपत

हरियाणा चैंबर ऑफ कॉमर्स (Haryana Chamber of Commerce) की शनिवार को सचिव मनीष अग्रवाल के कार्यालय में बैठक हुई। वहीं बैठक की अध्यक्षता चैंबर ऑफ कॉमर्स के उप प्रधान मोहन लाल गर्ग ने की। मीटिंग में हरियाणा सरकार (Haryana Government) के उस फैसले का भी विरोध किया गया जिसमें सरकार ने प्रदेश में 75 प्रतिशत रोजगार प्रदेश के लोगों को देने की बात कही है। इसके अलावा मीटिंग में उद्योगों की तमाम समस्याओं के बारे में विस्तार से चर्चा की गई।

सचिव मनीष अग्रवाल ने कहा कि चैंबर ऑफ कॉमर्स पूरे जिले से अपील करता है कि हर व्यक्ति पांच अगस्त को अपने घर में दीये जलाएं। इसी दिन अयोध्या में राम मंदिर में पूजा भी होगी। मोहन लाल गर्ग ने कहा कि सरकार का स्थानीय लोगों को 75 प्रतिशत रोजगार देने का फैसला उन्हें मंजूर नहीं है। इससे उद्योग प्रभावित होंगे। पहले ही उद्योग आर्थिक मंदी से गुजर रहे हैं। सभी औद्योगिक एसोसिएशन इसका पूरजोर विरोध करती है। अगर सरकार ने इस फैसले को वापस नहीं लिया तो भविष्य में सरकार के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा।

मनीष अग्रवाल ने कहा कि उद्योग, सड़कों, सीवरेज, स्ट्रीट लाइट जैसी मूलभूत सुविधाओं से गुजर रहे हैं। सरकार उद्योगपतियों को मूलभूत सुविधाएं देने में कामयाब नहीं हुई है। जबकि पानीपत सरकार को हर साल 10 हजार करोड़ रुपये टेक्स देते हैं। वहीं सरकार को उनकी ओर ध्यान देना चाहिए। इस मौके पर राकेश भाटिया और राजेंद्र खुराना समेत चैंबर के सदस्य भी उपस्थित रहे। बता दें बैठक की अध्यक्षता चैंबर ऑफ कॉमर्स के उप प्रधान मोहन लाल गर्ग ने की।

Next Story
Top