Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ग्रामीण सफाई कर्मियों को दुष्यंत चौटाला ने दिया यह तोहफा

डिप्टी सीएम ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में कार्य करने वाले हर दिहाड़ीदार मजदूर से लेकर न्यूनतम मासिक मानदेय पर काम करने वाले श्रमिकों तक के जीवन-स्तर में सुधार करने के लिए निरंतर प्रयासरत है।

ग्रामीण सफाई कर्मियों को दुष्यंत चौटाला ने दिया यह तोहफा
X

सीटू के प्रतिनिधियों से उनकी मांगों के बारे में चर्चा करते दुष्यंत चौटाला।

चंडीगढ़। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जिन ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को संबंधित ग्राम पंचायत द्वारा तसला-कस्सी उपलब्ध नहीं करवाए गए हैं उनको 15 मार्च 2021 तक दे दिए जाएं। इसके अलावा पूरे प्रदेश से इस संबंध में एक रिपोर्ट भी तैयार की जाए कि किस-किस पंचायत ने अभी तक दिए और किस ने नहीं दिए।

दुष्यंत चौटाला (जिनके पास विकास एवं पंचायत और श्रम एवं रोजगार विभाग का कार्यभार भी है) ने विभिन्न श्रमिकों के संगठन सीटू के प्रतिनिधियों से आवास पर उनकी मांगों के बारे में चर्चा की। अधिकतर मांगों पर सहमति बनने से श्रमिक नेता संतुष्ट नजर आए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में कार्य करने वाले हर दिहाड़ीदार मजदूर से लेकर न्यूनतम मासिक मानदेय पर काम करने वाले श्रमिकों तक के जीवन-स्तर में सुधार करने के लिए निरंतर प्रयासरत है। डिप्टी सीएम ने कहा कि हरियाणा में देश के अन्य राज्यों से ज्यादा मनरेगा की मजदूरी दी जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि परिवार पहचान पत्र वाले श्रमिकों को आयुष्मान योजना का लाभ दिया जा रहा है। उपमुख्यमंत्री ने जनसंख्या के आधार पर ग्रामीण सफाई कर्मचारियों की नियुक्ति, श्रमिकों को ऋण देने की शर्तां के सरलीकरण समेत विभिन्न मांगों पर अधिकारियों को एक कमेटी बनाकर अध्ययन करवाने तथा उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

कर्मियों के वर्दी-जूते भत्ते बढ़ाने को लेकर कमेटी का गठन

श्रमिकों के संगठन सीटू के प्रतिनिधियों ने उपमुख्यमंत्री को अपनी अन्य कई परेशानियों से अवगत करवाया। दुष्यंत चौटाला ने कर्मियों की वर्दी व जूते भत्ते को बढ़ाने की मांग पर गौर करते हुए अधिकारियों को एक कमेटी का गठन कर जल्द इस बारे रिपोर्ट सौंपने के नर्दिेश दिए।

Next Story