Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुलासा : भाभी ने प्रेमी से कराई थी आंदोलनरत किसान की हत्या, वजह जानकार रह जाएंगे हैरान

5 मार्च को सेक्टर-9 बाईपास स्थित नए बस अड्डे के पीछे खेतों में एक आंदोलनकारी किसान का शव मिला था। आधार कार्ड से उसकी पहचान करीब 61 वर्षीय हाकम सिंह निवासी बठिंडा के रूप में हुई थी।

खुलासा : भाभी ने प्रेमी से कराई थी आंदोलनरत किसान की हत्या, वजह जानकार रह जाएंगे हैरान
X

पुलिस की गिरफ्त में दोनों आरोपित।

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

पंजाब के किसान हाकम सिंह की हत्या का खुलासा हो गया है। हत्या का पर्चा दर्ज कराने वाली भाभी ने ही अपने प्रेमी के हाथों उसका कत्ल कराया था। पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। अदालत में पेश करने के बाद दोनों आरोपित जेल भेज दिए गए।

दरअसल, गत 25 मार्च की देर शाम को सेक्टर-9 बाईपास स्थित नए बस अड्डे के पीछे खेतों में एक आंदोलनकारी किसान का शव मिला था। गला रेतकर हत्या की गई थी। आधार कार्ड से उसकी पहचान करीब 61 वर्षीय हाकम सिंह निवासी बठिंडा के रूप में हुई थी। अगले दिन 26 मार्च को भाभी कर्मजीत ने आकर बयान दिए थे। मामले में जांच आगे बढ़ी तो शक की सूई हाकम की भाभी कर्मजीत पर ही जाकर टिकी। पुलिस ने एक आरोपित मोगा पंजाब के निवासी कुलवंत को काबू किया। पूछताछ में उसने वारदात कुबूली। इसके बाद कर्मजीत को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

इस वजह से की गई हत्या

जानकारी के अनुसार, कर्मजीत कौर की कुलवंत के साथ काफी पुरानी दोस्ती थी। दोनों के संबंधों के बारे में हाकम सिंह को पता चल गया था। यही वजह उसकी हत्या का कारण बन गई। कर्मजीत ने हाकम सिंह को रास्ते से हटाने की साजिश रचनी शुरू कर दी। इसके लिए उसने अपने प्रेमी कुलवंत को उकसाया, उस पर दबाव बनाया। हाकम किसान आंदोलन से लगातार जुड़ा हुआ था, लेकिन फिर वापस गांव चला गया। गत 25 मार्च को फिर से वह आंदोनल में आया। उसके साथ कुलवंत भी आया था। दोपहर को यहां आते ही कुलवंत ने हाकम को शराब पिलाई और मौका मिलते ही उसका गला रेत दिया। जब हाकम की हत्या हुई तो कर्मजीत ने ही बहादुरगढ़ आकर 302 का मुकदमा दर्ज कराया था।




Next Story