Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सोनीपत-पलवल रेल कॉरिडोर को आसौदा स्टेशन से जोड़ने की मांग हुई तेज

अब ग्राम पंचायत आसौदा के प्रतिनिधि मंडल ने एचआरआईडीसी के प्रबंधक निदेशक दिनेश चंद देशवाल से मुलाकात की। उनके समक्ष मजबूती से अपनी मांग रखी। अधिकारी ने भी इनको उचित आश्वासन दिया है।

भानुपल्ली-बिलासपुर-बैरी रेलवे लाईन प्रभावितों को जमीन का मुआवजा देने के लिए बजट का संकट
X

रेलवे लाइन (फाइल फोटो)

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

सोनीपत-पलवल रेल कॉरिडोर को आसौदा रेलवे स्टेशन से दोनों तरफ जोड़ने की मांग लगातार तेज हो रही है। इसी कड़ी में अब ग्राम पंचायत आसौदा के प्रतिनिधि मंडल ने एचआरआईडीसी के प्रबंधक निदेशक दिनेश चंद देशवाल से मुलाकात की। उनके समक्ष मजबूती से अपनी मांग रखी। अधिकारी ने भी इनको उचित आश्वासन दिया है।

दरअसल, केएमपी के साथ-साथ सोनीपत-पलवल रेल कोरिडोर बनाया जाना है। इसके तहत आसौदा स्टेशन को मांडोठी प्रस्तावित स्टेशन से तो जोड़ने की योजना है लेकिन जसोरखेड़ी स्टेशन से नहीं जोड़ा जा रहा। इसी वजह से न केवल आसौदा बल्कि कई गांवों के लोग आहत हैं। आसौदा को दोनों तरफ से कोरिडोर से जोड़ने की मांग को लेकर एसडीएम, डीसी, सांसद, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष, डिप्टी सीएम व रेलवे के कई अधिकारियों से ग्रामीण मिल चुके हैं। इसी कड़ी में ग्राम पंचायत आसौदा का एक प्रतिनिधि मंडल प्रोफेसर हरिओम की अगुवाई में एचआरआईडीसी के प्रबंधक निदेशक दिनेश चंद देशवाल से मिला।


वहां प्रतिनिधि मंडल ने पूरी मजबूती से अपनी मांग रखी। अधिकारी से कहा गया कि कोरिडोर को आसौदा स्टेशन से जोड़ा जाना बेहद लाभदायक सिद्ध होगा। इससे न केवल इलाके का विकास होगा बल्कि कई जिलों के लोगों की यात्रा सुगम हो जाएगी। यदि इस मांग को पूरा नहीं किया जाता है तो वे अपने खेतों से कोरिडोर नहीं जाने देंगे। बकौल हरिओम, प्रबंधक निदेशक ने उनकी मांग ध्यान से सुनी और कहा कि वह इस मांग को रेलवे के शीर्ष अधिकारियांे के सामने पूरी मजबूती से रखेंगे। अपनी तरफ से भरसक प्रयास करेंगे कि मांग मान ली जाए। प्रतिनिधिल मंडल मंे रोहताश कुमार, रामकिशन, दिलबाग, रोहताश जांगड़ा, सतबीर लाला, आजाद सिंह, रामे पंडित, राकेश आदि शामिल थे।

Next Story