Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सेना भर्ती उम्मीदवाराें से कोरोना टेस्ट के मांगे 750 रुपये, सिविल अस्पताल में हंगामा

स्वास्थ्य विभाग ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत उच्च अधिकारियों से बात कर मुफ्त में युवाओं के टेस्ट करने के निर्देश दिए।

सेना भर्ती उम्मीदवाराें से कोरोना टेस्ट के मांगे 750 रुपये, सिविल अस्पताल में हंगामा
X

नागरिक अस्पताल के बाहर एकत्रित युवाओं की भीड़।

हरिभूमि न्यूज. रेवाड़ी

देश में तेजी से बढ़ते कोरोना के केस को लेकर टेस्टिंग की प्रक्रिया तेज हो चुकी है। इसी के चलते हिसार में होने वाली सेना की भर्ती को लेकर भी सेन्य अधिकारियों ने कोरोना की रिपोर्ट अनिवार्य की हुई है। गुरूवार को बड़ी संख्या में जिले के युवा कोरोना का टेस्ट कराने के लिए नागरिक अस्पताल में पहुंचे।

लेकिन जैसे ही कोरोना टैस्ट के लिए 750 रुपए जमा कराने की बात आई तो युवाओं का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने न केवल नागरिक अस्पताल के सामने सरकुलर रोड जाम कर दिया, बल्कि जमकर बवाल भी काटा। इतना ही नहीं, इस दौरान युवाओं की भारी भीड़ के चलते नागरिक अस्पताल में कोविड गाइड लाइन भी तार-तार होती दिखी। जाम की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और युवाओं को समझा-बुझाकर पुलिस ने जाम खुलवाया। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने भी मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत उच्च अधिकारियों से बात कर मुफ्त में युवाओं के टेस्ट करने के निर्देश दे दिए। कुछ देर बाद ही फ्री टेस्ट सेवा शुरू होने के बाद युवा शांत हो गए।

24 घंटे पहले पांच रुपये थी फीस

दरअसल, 28 व 30 मार्च को हिसार कैंट में होने वाली सेना भर्ती में शामिल होने से पहले अनिवार्य कोरोना टेस्ट को लेकर गुरूवार को बड़ी संख्या में रेवाड़ी के नागरिक अस्पताल में अपना कोरोना टेस्ट कराने के लिए पहुंचे थे। युवाओं की माने तो 24 घंटे पहले यानी बुधवार तक मात्र 5 रुपए की रसीद कटाकर कोरोना टेस्ट किए जा रहे थे, लेकिन आज युवाओं की भारी भीड़ को देख स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना टेस्ट के लिए 750 रुपए मांगने शुरू कर दिए। जबकि सरकार की ओर से न तो ऐसी कोई गाइडलाइन है और ना ही विभाग द्वारा काउंटर पर इसे लेकर कोई नोटिस चस्पा किया गया है।

सड़क को बंद किया

यही वजह है कि युवाओं में भारी गुस्सा पनप गया। युवाओं ने पहले स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से बात करने की कोशिश की, लेकिन बातचीत के लिए कोई नहीं पहुंचा। उसके बाद युवाओं ने हंगामा खड़ा कर दिया। काफी देर हंगामा होने के बाद करीब डेढ़ सौ की संख्या में युवा अस्पताल के पास ही सरकुलर रोड पर पहुंच गए। सड़क को दोनों तरफ से पूरी तरह बंद कर दिया। सड़क पर दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। जाम की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को संभाला और फिर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से बातचीत कराकर समाधान निकाला। मुफ्त में कोरोना वायरस के टेस्ट शुरू होने के बाद युवा शांत हो गए।


Next Story