Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कंकाल में तब्दील हुआ शव : प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या, ऐसे हुआ पर्दाफाश

गांव में कई बार पंचायत करने व पुलिस को शिकायत करने के बाद उसकी भाभी गुलाब देवी ने हत्या का खुलासा किया। उसने गांव के विजय कुमार यादव के साथ मिलकर उसके भाई की हत्या कर दी थी। । वारदात स्थल से पुलिस ने कंकाल बरामद किया हैं। खोपड़ी व पैरों का कुछ हिस्ता कंकाल के रूप में बरामद का कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल में भिजवाया। जीआरपी पुलिस कंकाल का डीएनए करवायेगी। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही हैं।

कंकाल में तब्दील हुआ शव : प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या, ऐसे हुआ पर्दाफाश
X

पुलिस की गिरफ्त में दोनों आरोपित। 

हरिभूमि न्यूज. सोनीपत

दिल्ली-अंबाला रेल मार्ग पर गांव बारोटा के पास दो माह पहले प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने पति की हत्या कर दी। उसके बाद अपने मायके चली गई। दो माह बाद युवक की हत्या का खुलासा हुआ। बिहार पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर जीआरपी सोनीपत के पास भेजा। जीआरपी पुलिस ने सूचना मिलते ही वारदात स्थल का दौरा किया। वारदात स्थल से पुलिस ने कंकाल बरामद किया हैं। खोपड़ी व पैरों का कुछ हिस्ता कंकाल के रूप में बरामद का कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल में भिजवाया। जीआरपी पुलिस कंकाल का डीएनए करवायेगी। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही हैं।


भवानीपुर बिहार निवासी दीनबंधु यादव ने सिंहेश्वर थाना बिहार में शिकायत देकर बताया कि उसका भाई रामबालक यादव (36) अपनी पत्नी गुलाब देवी व तीन बच्चों के साथ बारोटा में पहुंचा। मेहनत-मजदूरी करके परिवार का पालन-पोषण करने लगा। सितंबर माह के बाद उसके भाई का कोई सुराग नहीं लग पाया। ग्रामीणों को साथ लेकर भाई की पत्नी के मायके पहुंचे। जहां रामबालक के बारे में जानकारी ली, लेकिन गुलाबी देवी ने जानकारी देने से मना कर दिया। उसने ट्रेन में दो माह पहले बैठाकर भेजने की बात कही। कई बार गांव की पंचायत हुई। गुलाब देवी ने बताया कि उसका गांव के विजय कुमार यादव के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था। वह नरेला स्टेशन पर आकर रहने लगा था। जिसकी जानकारी रामबालक को लग गई। सिंतबर माह में गांव बारोटा-सफियाबाद सड़क मार्ग पर सिर में डंडा मारकर विजय ने रामबालक की हत्या कर दी। शव को सुनसान जगह पर फेंककर वह अपने घर चली गई। सिसेश्वर पुलिस ने दोनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर मामले को जीआरपी सोनीपत पुलिस के पास भेजा।

हड्डियों के कुछ ही टुकड़े हुए बरामद

जीआरपी से मिली जानकारी के अनुसार सूचना मिलते ही पुलिस वारदात स्थल पर पहुंची। जहां सर्च अभियान चलाया। अभियान के तहत सुनसान जगह पर पुलिस को खोपड़ी का कुछ हिस्सा व पैरों का कुछ हिस्सा बरामद हुआ हैं। पुलिस ने कंकाल को कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल के शवगृह में रखवाया हैं। सोमवार को कंकाल का पोस्टमार्टम व डीएनए टेस्ट करवाया जायेगा।

मृतक के दो बेटी व एक बेटा, पंचायत करने के बाद हुआ खुलासा

मृतक रामबालक के भाई ने जीआरपी पुलिस को बताया कि उसके भाई का दो माह से कोई सुराग नहीं लग पा रहा था। जिसके बाद वह भाई की ससुराल पहुंचा। जहां अपनी भाभी से जानकारी मांगी, लेकिन उसकी भाभी कोई सुराग नहीं दे रही थी। गांव में कई बार पंचायत करने व पुलिस को शिकायत करने के बाद उसकी भाभी गुलाब देवी ने हत्या का खुलासा किया। उसने गांव के विजय कुमार यादव के साथ मिलकर उसके भाई की हत्या कर दी थी। रामबालक के पास दो लड़की व एक लड़का हैं। उसकी करीब आठ साल पहले गुलाबी देवी के साथ शादी हुई थी।

बिहार पुलिस व मृतक के भाई ने मामले को लेकर सूचना दी। वारदात स्थल पर पहुंचकर मौके से कंकाल बरामद किया हैं। जिसे कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल में भिजवाया हैं। डीएनए टेस्ट से मृतक की पहचान व पोस्टमार्टम में मौत के सही कारणों का खुलासा हो सकेगा। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही हैं। -धर्मपाल सिंह, जांच अधिकारी, जीआरपी सोनीपत।

और पढ़ें
Next Story