Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मां की हत्या : नाबालिग बेटी ने पहले नींबू पानी में दी नींद की गाेली, फिर प्रेमी वीडियो कॉल पर बताता रहा मारने का तरीका

क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा करते हुए एक नाबालिग लडक़ी उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान 18 वर्षीय दीपांशु पुत्र लवकेश निवासी जिला बुलंदशहर उत्तर प्रदेश व नाबालिग लडक़ी उम्र 16 वर्ष निवासी फरीदाबाद के रूप में हुई है।

मां की हत्या : नाबालिग बेटी ने पहले नींबू पानी में दी नींद की गाेली, फिर प्रेमी वीडियो कॉल पर बताता रहा मारने का तरीका
X

महिला की उसकी पुत्री से हत्या करवाने का आरोपी युवक क्राईम ब्रांच डीएलएफ की गिरफ्त में।

फरीदाबाद। क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा करते हुए एक नाबालिग लडक़ी उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान 18 वर्षीय दीपांशु पुत्र लवकेश निवासी जिला बुलंदशहर उत्तर प्रदेश व नाबालिग लडक़ी उम्र 16 वर्ष निवासी फरीदाबाद के रूप में हुई है।

गत 10-11 जुलाई 2021 को थाना डबुआ कालोनी क्षेत्र की उड़िया कालोनी निवासी विशाल ने पुलिस को शिकायत दी कि रात को किसी ने उसकी मां सुधा की हत्या कर दी है। जिस पर हत्या का मामला थाना डबुआ में दर्ज कर मामले की जांच क्राइम ब्रांच डीएलएफ को सौंपी गई थी। क्राइम ब्रांच डीएलएफ के इंचार्ज निरीक्षक अनिल कुमार ने मामले को जल्द सुलझाने के लिए टीम गठित कर जांच शुरू की। क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने सूत्रों के माध्यम से केस का खुलासा करते हुए आरोपी दीपांशु को 3 अगस्त और आरोपी किशोरी को 4 अगस्त को गिरफ्तार किया।

आरोपी दीपांशु ने बताया कि वह और मृतका सुधा उम्र 45 वर्ष की नाबालिग पुत्री दोनों पिछले 2 साल से प्यार करते थे और शादी करना चाहते थे लेकिन सुधा उनके रिश्ते के खिलाफ थी। इसी कारण दोनों ने मिलकर सुधा को मारने की योजना बनाई और योजना अनुसार 10 जुलाई 2021 को दीपांशु नींद की गोलियां लेकर आया और अपनी प्रेमिका (मृतका की नाबालिग लडक़ी) को दे दी। लडक़ी ने नींंबू पानी में नींद की गोलियां अपनी मां को खिला दी और रात को लगभग बारह बजे आरोपी दीपांशु से वीडियो कॉल की। योजना अनुसार आरोपी दीपांशु ने पहले तकिये से मुंह दबाने के लिए बोला और फिर चुन्नी से गला दबाने के लिए कहा। दीपांशु के कहे अनुसार पहले तकिये से और फिर चुन्नी से गला दबाकर लडक़ी ने अपनी मां सुधा की हत्या कर दी। क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने दोनों आरोपियों को अदालत में पेश किया जहां से अदालत ने आरोपी दीपांशु को जेल में भेज दिया और नाबालिग आरोपी लडक़ी को करनाल नारी निकेतन (नाबालिग जेल) भेजने के निर्देश दिए।


Next Story