Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दलित छात्र को स्कूल आने से रोका, प्रिंसिपल और डीपी सहित आधा दर्जन लोगों पर केस, जानें पूरा मामला

पीड़ित छात्र के पिता ने कहा कि चूंकि वह अनुसूचित जाति से संबंधित है, इसलिए उसके परिवार के साथ अत्याचार किया जा रहा है। उसने अपने बेटे का एडमिट कार्ड जारी किए जाने, परीक्षा दिलवाए जाने की गुहार लगाई है।

Himachal News: वाहन पंजीकरण फर्जीवाड़े में 111 लोगों पर एफआईआर
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हरिभूमि न्यूज : सिरसा

नाथूसरी चौपटा पुलिस ने गांव शाहपुरिया निवासी विजय सिंह पुत्र बलबीर सिंह की शिकायत पर इसी गांव निवासी आधा दर्जन लोगों सहित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय शाहपुरिया के प्रिंसिपल व डीपी के खिलाफ भादंसं की विभिन्न धाराओं व एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। विजय सिंह की ओर से दर्ज करवाई गई शिकायत में बताया कि उसका बेटा दसवीं कक्षा का होनहार छात्र है।

जिससे इसी गांव निवासी विक्रम सिंह उससे खफा है, चूंकि उसका बेटा भी इसी स्कूल का छात्र है। परीक्षा में बेटे के कम नंबर आने से विक्रम सिंह उससे रंजिश रखता है और बीती एक मार्च को पहले विक्रम सिंह का बेटा उसके बेटे को और फिर उसे अपने मोटरसाइकिल पर बैठाकर ले गया। जहां विक्रम सिंह व उसके साथियों ने उसे व उसके बेटे के साथ मारपीट की। शिकायत में कहा गया कि आरोपियों ने उसके बेटे को स्कूल में जाने पर जान से मारने की धमकी दी है, जिसके कारण वह प्रेक्टिकल के दो पेपर भी नहीं दे पाया है। शिकायत में कहा गया है कि स्कूल के प्रिंसिपल बलजीत व डीपी बलवंत ने हमलावरों के कहें बिना उसके बेटे को एडमिट कार्ड न देने और स्कूल में प्रवेश न करने की धमकी दी है।

चूंकि वह अनुसूचित जाति से संबंधित है, इसलिए उसके परिवार के साथ अत्याचार किया जा रहा है। उसने अपने बेटे का एडमिट कार्ड जारी किए जाने, परीक्षा दिलवाए जाने की गुहार लगाई। पुलिस ने मामले में विक्रम सिंह, उसके बेटे, सोनू, कृष्ण, अक्षय तथा स्कूल के प्रिंसिपल बलजीत व डीपी बलवंत के खिलाफ भादंसं की धारा 323, 34, 363, 506 व एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। उधर, प्रिंसिपल ने इस मामले में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।

और पढ़ें
Next Story