Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा में बेकाबू हुआ कोरोना : 1383 नए केस मिले, 'मत जा नज़दीक-खुद को रखें ठीक' अभियान का आगाज

शनिवार को प्रदेश में कोरोना के 1383 सामने आए और सात लोगों की संक्रमण से मौत भी हो गई, जबकि 761 मरीज ठीक भी हुए।

हरियाणा में बेकाबू हुआ कोरोना : 1383 नए केस मिले, मत जा नज़दीक-खुद को रखें ठीक अभियान का आगाज
X

रंगों के त्यौहार होली से पहले हरियाणा प्रदेश में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। हालांकि सरकार ने सार्वजनिक रूप से होली मनाने पर रोक लगा दी है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल और गृह मंत्री अनिल विज ने भी लोगों से सुरक्षित तरीके से त्यौहार मनाने की अपील की है। शनिवार को प्रदेश में कोरोना के 1383 सामने आए और सात लोगों की संक्रमण से मौत भी हो गई। जबकि 761 मरीज ठीक भी हुए। प्रदेश में कोरोना के कुल केस 286327 तक पहुंच चुके हैं और 3132 लोगाें की मौत हो चुकी है। वहीं कोविड-19 महामारी के अचानक बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकारी प्रयासों के साथ-साथ हरियाणा राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण ने ''मत जा नज़दीक, खुद को रखें ठीक.... उन पे रहे आँख, ढके ना जो मुंह और नाक'' नाम से एक व्यापक कोरोना जागरूकता अभियान चलाने की पहल की है।

कहां पर कितने केस मिले

गुरुग्राम में 245, फरीदाबाद में 85, सोनीपत में 39, हिसार में 21, अंबाला में 166, करनाल में 220, पानीपत में 57, रोहतक में 39, रेवाड़ी में 0, पंचकूला में 152, कुरुक्षेत्र में 128, यमुनानगर में 58, सिरसा में 23, महेंंद्रगढ़ में 2, भिवानी में 8, झज्जर में 5, पलवल में 2, फतेहाबाद में 36, कैथल में 31, जींद में 62, नूंह में एक और चरखी दादरी में तीन किस मिले।

शनिवार काे कोरोना अपडेट

केस 1383

कुल केस 286327

मौत 07

कुल मौत 3132

ठीक हुए 761

कुल ठीक हुए 274785

कितनों को वैक्सिन लगाई 1318185

मत जा नज़दीक, खुद को रखें ठीक

कोविड-19 महामारी के अचानक बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकारी प्रयासों के साथ-साथ हरियाणा राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण ने ''मत जा नज़दीक, खुद को रखें ठीक.... उन पे रहे आँख, ढके ना जो मुंह और नाक'' नाम से एक व्यापक कोरोना जागरूकता अभियान चलाने की पहल की है। हरियाणा राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि प्राधिकरण द्वारा अपने सभी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से इस अभियान की शुरूआत की गई है। इसका मुख्य उद्देश्य कोरोना महामारी के खिलाफ समाज को जागरूक और सही तरीके से मास्क शिष्टाचार को विकसित करना है। साथ ही जन-मानस में स्वास्थ्य मापदंडों के उचित कार्यान्वयन, मास्क पहनने और शारीरिक स्वच्छता बनाए रखने का संदेश देना भी है।

Next Story