Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना की मार : 2 साल में नए पर्सनल व्हीकल खरीदने में 46.46 फीसदी गिरावट, कॉमर्शियल व्हीकल 25.99 फीसदी खरीदे गए कम

साल-2018 में 2119 व साल-2019 में 2147 वाहन करीब-करीब बराबर रजिस्ट्रेशन हुए। साल-2020 में जैसे ही कोरोना का एंट्री हुई, धड़ाम से नए वाहन खरीदने की 42.52 फीसदी सीधे गिरावट आ गई। इस साल महज 1234 वाहन ही रजिस्ट्रेशन हुई। अगले साल-2021 आया तो 1438 रजिस्ट्रेशन हुए।

कोरोना की मार :  2 साल में नए पर्सनल व्हीकल खरीदने में 46.46 फीसदी गिरावट, कॉमर्शियल व्हीकल 25.99 फीसदी खरीदे गए कम
X

वाहनों की लंबी कतार। फाइल फोटो

हरिभूमि न्यूज : नारनौल

कोरोना महामारी से ऑटोमोबाइल सेक्टर में अभूतपूर्व मंदी का सामना कर रहा है। अब तीसरी लहर से इस क्षेत्र में उथल-पुथल के संकेत दिखना शुरू हो गए है। अकेले महेंद्रगढ़ जिला की बात करें तो बीते सालों में साल-दर-साल रिकार्ड के हिसाब से इन दो साल (2020 व 2021) में नए पर्सनल व्हीकल 46.46 फीसदी कम रजिस्ट्रेशन हुए है। सबसे कम कनीना में 13.16, फिर नारनौल में 16.33 और महेंद्रगढ़ उपमंडल क्षेत्र में 16.97 फीसदी रजिस्ट्रेशन कम हुए है। यहीं हाल, कॉमर्शियल व्हीकलों का है। दो सालों में इनके ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में भी 25.99 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।

आरटीओ आफिस नारनौल में रजिस्ट्रेशन वाहनों के आंकड़ों पर नजर डालने है तो अब तक ट्रांसपोर्ट व्हीकल जिनमें कार, ट्रक, बस, टैम्पो व पिकअप सहित अन्य वाहन शामिल है, यह जिला में 31 हजार 497 रजिस्ट्रेशन है। साल-2018 में 2119 व साल-2019 में 2147 वाहन करीब-करीब बराबर रजिस्ट्रेशन हुए। साल-2020 में जैसे ही कोरोना का एंट्री हुई, धड़ाम से नए वाहन खरीदने की 42.52 फीसदी सीधे गिरावट आ गई। इस साल महज 1234 वाहन ही रजिस्ट्रेशन हुई। अगले साल-2021 आया तो 1438 रजिस्ट्रेशन हुए। यह बीते 2020 में दर्ज की गई गिरावट से 16.53 फीसदी अप उछाल आया। नए साल 2022 की बात करें तो अभीतक 48 नए वाहन खरीदकर मालिक रजिस्ट्रेशन करवा चुके है।

जिला में तीनों उपमंडल वाइज पर्सनल वाहनों का हाल

नारनौल उपमंडल : इस उपमंडल में अब तक 150760 पर्सनल वाहन रजिस्ट्रेशन है। साल-2018 में 12463 वाहन रजिस्ट्रेशन हुए। साल-2019 में 5.66 फीसदी गिरावट हुई और उस साल 11758 वाहनों को मालिकों ने अपने नाम करवाया। साल-2020 में कोरोना समय आया और सीधे 13.27 फीसदी गिरावट आ गई। उस साल महज 10198 वाहन ही खरीदे गए। यही क्रम अगले साल 2021 में चला और 3.06 फीसदी की गिरावट के साथ महज 9886 वाहन ही लोग खरीद पाएं। नए साल जनवरी माह में अब तक 229 वाहन रजिस्ट्रेशन हुए है।

महेंद्रगढ़ उपमंडल : इस क्षेत्र में 85243 पर्सनल वाहन है। साल-2018 में 6422 व 2019 में 6221 वाहन रजिस्टे्रशन हुए। कोरोना काल की शुरूआत 2020 में हुई तो सीधी 14.76 फीसदी की गिरावट हुई और महज 5303 वाहन रजिस्ट्रेशन हुए। यहीं क्रम साल 2021 में चला और 2.21 फीसदी गिरावट के बाद महज 5186 वाहन ही लोग खरीद पाएं। इस साल जनवरी में 92 वाहन रजिस्टे्रशन हुए है।

कनीना उपमंडल : यहां 23666 वाहन रजिस्ट्रेशन है। साल-2018 में 3648 और 2019 में 3350 वाहन रजिस्ट्रेशन हुए। 2020 आई तो 14.45 फीसदी की गिरावट आई और लोग 2866 वाहन ही खरीद पाएं। साल-2021 में यह क्रम जारी रहा पिछले 2021 के मुकबाले 1.29 फीसदी ही बढ़ोतरी हो पाई और लोगों ने 2903 वाहन खरीदें।

और पढ़ें
Next Story