Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सजा काट रही कांग्रेस नेत्री ने जेल में ली डिप्रेशन दवा की ओवरडोज, पीजीआई रेफर

नशीले पदार्थ तस्करी के जुर्म में 15 साल की सजा भुगत रही है महिला कांग्रेस की पूर्व महिला जिलाध्यक्ष रितु लाठर, जेल में टॉर्चर करने की बात कही, जेल प्रशासन ने आरोपों को नकारा।

सजा काट रही कांग्रेस नेत्री ने जेल में ली डिप्रेशन दवा की ओवरडोज, पीजीआई रेफर
X

रितु लाठर को एंबुलेंस से सामान्य अस्पताल लाते जेलकर्मी।

हरिभूमि न्यूज. जींद

जिला कारागार में नशीले पदार्थ तस्करी के जुर्म में 15 साल की सजा भुगत रही महिला कांग्रेस की पूर्व महिला जिलाध्यक्ष रितु लाठर की हालत बिगड़ने पर शनिवार शाम को सामान्य अस्पताल लाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। बताया जाता है कि रितु लाठर ने डिप्रेशन दवाइयों की ओवरडोज ले ली थी। वहीं रितु लाठर जेल में टॉर्चर करने की बात कह रही थी। सिविल लाइन थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गांव बुढ़ाखेड़ा लाठर हाल आबाद अर्बन एस्टेट निवासी रितु लाठर को गत छह अप्रैल 2021 को चरस तस्करी के जुर्म में 15 साल की सजा सुनाई हुई थी और डेढ़ लाख रुपये जुर्माना लगाया था। सदर थाना सफीदों पुलिस ने 17 दिसंबर 2017 शाम को रितु लाठर, उसके सहयोगी गांव झांझ खुर्द निवासी राजेंद्र तथा जैजैवंती निवासी सुरेंद्र उर्फ मंगल को चार किलो 490 ग्राम चरस के साथ पकड़ा था। सजा सुनाने के बाद रितु लाठर जिला कारागार में बंद थी। शनिवार शाम को रितु लाठर ने डिप्रेशन की दवाइयों की ओवरडोज ले ली और खुद ही जेल अधिकारियों को अवगत करवाया। जिसके बाद उसे उपचार के लिए सामान्य अस्पताल पहुंचाया गया जहां चिकित्सकों ने उसकी गंभीर हालात देख पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया।

जिस समय रितु को एंबुलेंस से सामान्य अस्पताल लाया गया उस दौरान वह जेल में टॉर्चर किए जाने की बात कह रही थी और सूचना मिलने पर अस्पताल पहंुची अपनी मां से लिपट कर रोई भी। बताया जाता है कि सजा होने के बाद रितु लाठर डिप्रेशन में है और गत 17 अगस्त को उसे पीजीआई रोहतक ले जाया गया था। जो दवाइयां उसे दी गई थी उन सभी दवाइयों का एकसाथ सेवन कर लिया। दो दिन पहले भी रितु लाठर का अन्य महिला बंदियों से झगड़ा होने की बात भी सामने आई है। फिलहाल सिविल लाइन थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। जेल उपाधीक्षक सचिन ने बताया कि महिला कैदी डिप्रेशन में है और उसका इलाज रोहतक पीजीआई से चला हुआ है। शाम को महिला ने डिप्रेशन दवाइयों की ओवर डोज ले ली। उन्होंने टॉर्चर किए जाने की बात से साफ नकारा।

Next Story