Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम ने इनेलो सुप्रीमो ओपी चौटाला पर ली चुटकी, बोले- इतने बड़े भविष्यवक्ता होते तो आज उनकी यह हालत नहीं होती, सभी जानते हैं वे कहां है

सीएम मनोहर लाल (Manohar Lal) ने कहा कि उनके समय में सरकार जैसे काम करती थी, उस तरह से हमारी सरकार काम नहीं करती। जनता को सरकार को मूल्यांकन करना होता है।

Cm Manohar Lal Khattar
X

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल। 

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल (Manohar Lal) ने पूर्व सीएम व लोकदल सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला द्वारा राज्य व केंद्र में मध्यावधि चुनाव को लेकर पलटवार करते हुए कहा कि अगर चौटाला इतने बड़े भविष्यवक्ता होते, तो आज उनकी यह हालत नहीं होती। सीएम ने कहा कि जल्द ही चुनाव होने हैं, परिणाम भी आना है। सारा कुछ आपके सामने साफ हो जाएगा। उन्हो्ंने यह भी कहा कि उनके समय में सरकार जैसे काम करती थी, उस तरह से हमारी सरकार काम नहीं करती। जनता को सरकार को मूल्यांकन करना होता है।

सीएम ने एक प्रश्न के जवाब में बरौदा चुनाव के बाद हरियाणा (Haryana) में सरकार गिरने और मध्यावधि चुनाव पर कहा कि चौटाला इतने बड़े भविष्य वक्ता होते, तो आज उनकी यह हालत नहीं होती। सभी जानते हैं कि वे कहां पर हैं। उनके शासनकाल में क्या क्या हुआ है ??

मंडियों में व्यवस्था बनाने के लिए गंभीर प्रयास

सीएम का कहना है कि किसानों को कृषि बिलों पर कोई समस्या नहीं है। कांग्रेस के लोगों ने भ्रम में डालने का प्रयास किया जिसकेचक्कर में जनता आने वाली नहीं है। सीएम ने उनकी खुद की पार्टी में कुछ लोगों द्वारा नाराजगी जाहिर करने पर सीएम बोले यह लोकतंत्र है, उन्हें अपनी बात रखने का अधिकार है। उन्होंने जोगीराम सिहाग व अन्य के नाम लेकर कहा कि यह लोग मुझसे भी मिले थे लेकिन सभी हमारे साथ में हैं।

सीएम ने यह भी साफ कर दिया है कि किसानों को सीधा भुगतान उनके खातों में या फिर विकल्प के तौर पर आढ़ती के माध्यम से पैसा दिए जाने की व्यवस्था है। सीएम ने यह भी साफ कर दिया है कि जिन मिलर्स और लोगों पर सरकार का करोड़ों बकाया है, उनसे रिकवर करने की प्रक्रिया है, जिसे एक सिस्टम के तहत ही लिया जाएगा। रिकवरी तो विभाग को करनी ही होगी, उसमें वक्त कितना लगेगा, यह देखने वाली बात है।

नारायणगढ़ अंबाला में बुजुर्ग की मौत का मामला

सीएम ने बुजुर्ग की मौत के मामले को लेकर कहा कि जिनकी मौत हुई है। वे हमारे मंडल किसान मोर्चा के अध्यक्ष थे। भाजपा द्वारा जब अपनी ट्रैक्टर रैली निकाली जा रही है, तो उसमें उन लोगों को हुड़दंग करने और हंगामे की क्या जरूरत थी? भाजपा के किसानों ने कांग्रेस के किसी कार्यक्रम में हुड़दंग नहीं किया लेकिन वे भाजपा की यात्रा को कैसे रोक सकते हैं? कानून व्यवस्था बनाए रखने का जिम्मा पुलिस प्रशासन का है। यह भी सच है कि उस दौरान उनकी मौके पर मौत हुई है।

योगेश्वर ही बनेंगे बरौदा से विधायक - सीएम

प्रदेश के सीएम मनोहरलाल ने कहा कि बरौदा उपचुनाव में योगेश्वर दत्त ही इस बार विधायक बनेंगे। सीएम ने कहा कि भाजपा ने सोच समझकर होनहार युवा को टिकट दिया है, पिछली बार भी उन्होंने काफी मेहनत की थी। सीएम ने कहा कि इस बार उनकी जीत तय है।

Next Story