Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम ने दिए संकेत, यस बैंक अधिकारी मर्डर केस को सुलझा सकती है सीबीआई

बता दें कि गुरुग्राम में यस बैंक में सीनियर वाइस-प्रेसिडेंट धीरज अहलावत (Dheeraj Ahlawat) का शव दिल्ली की बवाना नहर से 12 अगस्त 2020 को मिला था। उसके बाद से उसके परिजन धीरज के अपहरण के बाद हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं।

हरियाणा सरकार ने इंटरमीडिएट और फाइनल सेमेस्टर की परीक्षाओं को किया रद्द
X
सीएम मनोहर लाल खट्टर (फाइल फोटो)

हरिभूमि न्यूज, गुरुग्राम। यहां के यस बैंक के अधिकारी की हत्या की जांच सीबीआई (CBI) से करवाने की तैयारी सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यह आश्वासन धीरज हत्याकांड को लेकर उनसे मिलने पहुंचे अहलावत खाप के प्रतिनिधियों को दिया।

बता दें कि गुरुग्राम में यस बैंक में सीनियर वाइस-प्रेसिडेंट धीरज अहलावत (&8) का शव दिल्ली की बवाना नहर से 12 अगस्त 2020 को मिला था। उसके बाद से उसके परिजन धीरज के अपहरण के बाद हत्या (killing) करने का आरोप लगा रहे हैं। उस समय से ही वे न्याय की गुहार लगाते हुए पुलिस के आला अधिकारियों से मिल चुके हैं। धीरज अहलावत के भाई प्रदीप अहलावत ने बताया कि धीरज अहलावत गुरुग्राम के सेक्टर-46 रहते थे।

वह पांच अगस्त की शाम को घर से बाहर घूमते हुए संदिग्ध हालात में गायब हो गए थे। सेक्टर-50 थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। इसके बाद 12 अगस्त को दिल्ली पुलिस ने सूचना दी कि बवाना नहर में एक शव मिला था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। परिजन शव को गुरुग्राम ले आए और अंतिम संस्कार कर दिया। इस मामले में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

धीरज अहलावत हत्याकांड की सीबीआई जांच की मांग को लेकर अहलावत खाप के नेता शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मिले। सीएम ने इस मामले में पुलिस महानिदेशक से बातचीत करके केस की स्टेट्स रिपोर्ट भी हासिल की। खाप प्रतिनिधियों की मांग पर सीएम ने अहलावत हत्याकांड की जांच सीबीआई से करवाने का आश्वासन दिया है।

खाप प्रतिनिधियों से बातचीत में सीएम मनोहर लाल ने कहा कि कानून एवं व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखना सरकार की प्राथमिकता है। धीरज अहलावत हत्या मामले में गुरुग्राम के सेक्टर-50 के थाने में 6 अगस्त 2020 को मामला दर्ज किया था। एसआईटी इस मामले की जांच कर रही है।

Next Story