Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद में 'आप' की महापंचायत : केजरीवाल बोले- मुझे किसानों का साथ देने की सजा दे रही केंद्र सरकार

सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि तीन काले कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलनरत किसानों का साथ देने की सजा उन्हें केंद्र सरकार दे रही है। सरकार संसद के अंदर बिल लेकर आई है कि दिल्ली के अंदर चुने हुए मुख्यमंत्री की कोई पॉवर नहीं होगी। सारी पॉवर लेफ्टिनेंट गर्वनर की होगी। इस बिल को पास भी कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास शक्तियां बहुत हैं लेकिन इनकी नियत खराब है। केजरीवाल के पास शक्तियां नहीं है लेकिन नियत साफ है।

जींद में आप की महापंचायत : केजरीवाल बोले- मुझे किसानों का साथ देने की सजा दे रही केंद्र सरकार
X

हरिभूमि न्यूज : जींद

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि तीन काले कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलनरत किसानों का साथ देने की सजा उन्हें केंद्र सरकार दे रही है। सरकार संसद के अंदर बिल लेकर आई है कि दिल्ली के अंदर चुने हुए मुख्यमंत्री की कोई पॉवर नहीं होगी। सारी पॉवर लेफ्टिनेंट गर्वनर की होगी। इस बिल को पास भी कर दिया गया है। वो केंद्र सरकार से कहना चाहते हैं कि आंदोलन में 300 किसानों ने अपनी शहादत दी है। अगर इस किसान आंदोलन के लिए केजरीवाल की जान भी चली जाए तो वो पीछे नहीं हटेंगें। वो किसी सजा से नहीं डरते हैं। जो किसानों के साथ वो देशभक्त है और जो खिलाफ है वो देश का गद्दार है। आंदोलन को सफल बनाने के लिए केजरीवाल हर कुर्बानी देने को तैयार हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रविवार को जींद के एकलव्य स्टेडियम के निकट सेक्टर नौ में आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिस सरकार को जनता ने 70 में से एक बार 62 और एक बार 67 सीटें दी और उसकी कोई पॉवर नहीं और सारी पॉवर लेफ्टिनेंट को कर दी। यह कहां का कानून है। संसद में एक-एक भाजपा सांसद ने कहा कि केजरीवाल ने किसान आंदोलन का समर्थन किया, इसीलिए सजा दे रहे हैं।


उन्होंने कहा कि जितना काम ये काम बीजेपी की केंद्र सरकार और अन्य प्रदेशों की इनकी सारी सरकारें मिल कर नहीं कर पाई उतना काम उनकी अकेली सरकार ने कर दिया है। उनके काम की गवाही देश की जनता दे रही है। पूरे देश में कहीं चले जाओ और पूछो कि बीजेपी ने किया तो वो ये कहेंगे कि किसान, व्यापारी और यूथ बर्बाद कर दिया। इन 75 सालों में बीजेपी और कांग्रेस ने राज किया है। आज देश की जनता पूछेगी कि अगर पांच साल के अंदर दिल्ली में स्कूल, बिजली फ्री हो सकती हैं तो बीजेपी और कांग्रेस ने क्यों नहीं किया। जनता इनसे जवाब पूछेगी तो इन्हें जवाब देने होंगे। इन पार्टियों के नेताओं ने अपने घर भरे हैं। सभी पार्टियां चाहती हैं कि केजरीवाल हमारी तरह हो जाए लेकिन वो 10 साल से इनके जैसे नहीं बने हैं। वो आज भी देश व जनता की सेवा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा के पास शक्तियां बहुत हैं लेकिन इनकी नियत खराब है। केजरीवाल के पास शक्तियां नहीं है लेकिन नियत साफ है। उन्होंने कहा कि जब वे खुद स्कूल में पढ़ रहे थे उस समय पढ़ाया जाता था कि देश विकासशील है। आज भी वही पढाया जा रहा है, आखिर भारत विकसित देशों में कब आएगा यह भी एक बहुत बड़ा सवाल है। उन्होंने कहा कि भगवान के साथ उनकी सैटिंग है, तब तक मौत नहीं आएगी जब तक देश नम्बर वन नहीं बन जाता। किसान आंदोलन के बारे में कहा कि जब तक थारा छौरा दिल्ली में बैठा है तब तक कोई चिंता की बात नहीं है। तीन कृषि काले कानून को लेकर भाजपा सरकार को झूकना पड़ेगा। इस मौके पर आप के राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता, जिलाध्यक्ष लाभसिंह, रणधीर रेढू ने भी अपने विचार रखे।

Next Story