Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिल कम करने के नाम पर रिश्वत लेता बिजली निगम का क्लर्क पकड़ा

अमित ने राज्य सतर्कता ब्यूरो को शिकायत दी थी कि उनका 54 हजार रुपये का बिजली बिल आया था। यह बिल भरने के लिए उन्होंने मनोज से संपर्क किया। मनोज ने अमित से कहा कि वह उन्हें बिल में काफी राहत दे सकता है।

एसीबी की बड़ी कार्रवाई : यूआईटी के तीन सीनियर अधिकारियों को रिश्वत लेते पकड़ा, ले रहे थे मोटी रकम
X

रिश्वत मामले में कार्रवाई

फरीदाबाद। स्टेट विजिलेंस की टीम ने पल्ला सबडिविजन में तैनात दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के क्लर्क को 18 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। मनोज नामक यह क्लर्क बिजली बिल कम करने की एवज में रश्वित ले रहा था।

सेक्टर-91 निवासी अमित ने राज्य सतर्कता ब्यूरो को शिकायत दी थी कि उनका 54 हजार रुपये का बिजली बिल आया था। यह बिल भरने के लिए उन्होंने मनोज से संपर्क किया। मनोज ने अमित से कहा कि वह उन्हें बिल में काफी राहत दे सकता है। उन्हें केवल 15 हजार रुपये भरने होंगे। बाकी तीन हजार रुपये उसने यह काम करने के लिए मांगे। अमित ने इसके लिए हामी भर दी। इसी दौरान उन्होंने राज्य सतर्कता ब्यूरो को शिकायत दे दी। ब्यूरो ने इंस्पेक्टर रामनाथ के नेतृत्व में टीम गठित कर 18 हजार रुपये पर पाउडर लगाकर अमित को दे दिए। अमित ने जैसे ही यह रुपये मनोज को ले जाकर दिए टीम ने छापेमारी कर उसे पकड़ लिया। पाउडर लगे नोट उसके पास से बरामद कर लिए गए। आरोपी को गिरफ्तार कर सिविल अस्पताल में मेडिकल कराया गया है।

Next Story