Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चिट फंड कंपनी : राशि डबल करने का झांसा देकर निवेशकों से लाखों रुपये ठगे

11 व 15 दिन में निवेश करने पर दिया था राशि डबल होने का झांसा, पुलिस ने कंपनी के दो निदेशकों समेत छह लोगों पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया।

ठगी की रकम हवाला से भेजते थे अफ्रीका, गिरोह ने रायपुर से उड़ाए 40 लाख
X
ठगी (प्रतीकात्मक फोटो)

हरिभूमि न्यूज. जींद

चिट फंड कंपनी द्वारा निवेशकों को डबल करने का झांसा दे लाखों रुपये की धोखाधड़ी किए जाने का मामला सामने आया है। गारंटी के तौर पर निवेशकों को दिए गए चैक भी बाउंस हो गए। शहर थाना पुलिस ने निवेशकों की शिकायत पर चिट फंड कंपनी फनटेस्टी गेमिंग ओपीसी प्राइवेट लिमटेड टीम वर्ल्ड 11 के दो निदेशकों समेत छह लोगों के खिलाफ अमानत में ख्यानत, धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

अर्बन एस्टेट निवासी सुरेंद्र ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी नरवाना निवासी अंजू से पुरानी जान पहचान है। जिसके चलते अंजू ने बताया कि नई कंपनी लॉच हुई है। जिसमें निवेश करने पर 11 व 15 दिन में राशि डबल हो जाती है। 15 दिसम्बर 2020 को फनटेस्टी गेमिंग ओपीसी प्राइवेट लिमटेड टीम वर्ल्ड 11 पिंजौर के निदेशक नवनीत व मोहित समेत अन्य टीम के सदस्यों से मिलवाया। जिन्होंने उन्हें कंपनी में निवेश करने का प्लान समझाया। जिसके बाद उसके समेत उससे जुड़े निवेशकों ने 25 लाख 12 हजार रुपये का निवेश किया। निवेश की गई राशि की डबल होने की अवधि के बाद जब उन्होंने राशि वापस मांगी तो उन्होंने अपनी निवेश कंपनी को दूसरी निवेश कंपनी में विलय होने की बात कही। साथ ही आश्वासन दिया कि उनकी राशि का भुगतान वर्ल्ड 11 निवेश चिट फंड कंपनी करेगी। जिसको लेकर वे संयुक्त हुई कंपनी के कर्ताधर्ताओं से मिले तो उन्होंने गारंटी के तौर पर उन्हें चैक दिए।

जिन्हें बैंक में लगाए जाने पर वे बाउंस हो गए। जब उन्होंने कंपनी के कर्ताधर्ताओं से चैक बाउंस होने तथा राशि वापस लौटाने के बारे में कहा तो उन्हें बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दी और राशि लौटाने से मना कर दिया। शहर थाना पुलिस ने सुरेंद्र की शिकायत पर फनटेस्टी गेमिंग ओपीसी प्राइवेट लिमटेड टीम वर्ल्ड 11 पिंजौर के निदेशक मोहित, नवनीत, पाई निवासी अनिल, करनाल निवासी दीपक, नरवाना निवासी अंजू, रोहताश के खिलाफ अमानत में ख्यानत, धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। शहर थाना के जांच अधिकारी बलविंद्र ने बताया कि कंपनी में निवेश करने पर राशि के जल्द डबल होने का आश्वासन दे राशि हड़पने का आरोप लगाते हुए शिकायत दी थी। जिसके आधार पर छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।


गारंटी के तौर पर निवेशकों को दिए गए चैक हुए बाउंस

हरिभूमि न्यूज. जींद

चिट फंड कंपनी द्वारा निवेशकों को डबल करने का झांसा दे लाखों रुपये की धोखाधड़ी किए जाने का मामला सामने आया है। गारंटी के तौर पर निवेशकों को दिए गए चैक भी बाउंस हो गए। शहर थाना पुलिस ने निवेशकों की शिकायत पर चिट फंड कंपनी फनटेस्टी गेमिंग ओपीसी प्राइवेट लिमटेड टीम वर्ल्ड 11 के दो निदेशकों समेत छह लोगों के खिलाफ अमानत में ख्यानत, धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। अर्बन एस्टेट निवासी सुरेंद्र ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी नरवाना निवासी अंजू से पुरानी जान पहचान है। जिसके चलते अंजू ने बताया कि नई कंपनी लॉच हुई है। जिसमें निवेश करने पर 11 व 15 दिन में राशि डबल हो जाती है। 15 दिसम्बर 2020 को फनटेस्टी गेमिंग ओपीसी प्राइवेट लिमटेड टीम वर्ल्ड 11 पिंजौर के निदेशक नवनीत व मोहित समेत अन्य टीम के सदस्यों से मिलवाया। जिन्होंने उन्हें कंपनी में निवेश करने का प्लान समझाया। जिसके बाद उसके समेत उससे जुड़े निवेशकों ने 25 लाख 12 हजार रुपये का निवेश किया। निवेश की गई राशि की डबल होने की अवधि के बाद जब उन्होंने राशि वापस मांगी तो उन्होंने अपनी निवेश कंपनी को दूसरी निवेश कंपनी में विलय होने की बात कही। साथ ही आश्वासन दिया कि उनकी राशि का भुगतान वर्ल्ड 11 निवेश चिट फंड कंपनी करेगी। जिसको लेकर वे संयुक्त हुई कंपनी के कर्ताधर्ताओं से मिले तो उन्होंने गारंटी के तौर पर उन्हें चैक दिए। जिन्हें बैंक में लगाए जाने पर वे बाउंस हो गए। जब उन्होंने कंपनी के कर्ताधर्ताओं से चैक बाउंस होने तथा राशि वापस लौटाने के बारे में कहा तो उन्हें बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दी और राशि लौटाने से मना कर दिया। शहर थाना पुलिस ने सुरेंद्र की शिकायत पर फनटेस्टी गेमिंग ओपीसी प्राइवेट लिमटेड टीम वर्ल्ड 11 पिंजौर के निदेशक मोहित, नवनीत, पाई निवासी अनिल, करनाल निवासी दीपक, नरवाना निवासी अंजू, रोहताश के खिलाफ अमानत में ख्यानत, धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

शहर थाना के जांच अधिकारी बलविंद्र ने बताया कि कंपनी में निवेश करने पर राशि के जल्द डबल होने का आश्वासन दे राशि हड़पने का आरोप लगाते हुए शिकायत दी थी। जिसके आधार पर छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

Next Story