Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

झज्जर : बाल पर्वतारोही अंगद ने बनाए दो विश्व रिकाॅर्ड

पर्वतारोहण दल के साथ भारतीय वायु सेना के गरुड़ कमांडो और आईटीबीपी (औली) में रैपलिंग, फिसलना, पर्वतारोहण और शून्य से कम तापमान में कार्य करने का प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

झज्जर : बाल पर्वतारोही अंगद ने बनाए दो विश्व रिकाॅर्ड
X

झज्जर। दस वर्षीय बाल पर्वतारोही अंगद भारद्वाज (Mountaineer Angad Bhardwaj) दो विश्व कीर्तिमान बनाकर अन्य बालकों के लिए प्रेरणास्रोत बना है। अंगद ने पहला रिकॉर्ड सबसे छोटी उम्र में भारतीय सेना प्रमुख के हाथों सम्मानित होने तथा दूसरा रिकॉर्ड भारतीय वायु सेना से प्रशिक्षित होने के खिताब हासिल किया है।

पौत्र अंगद भारद्वाज द्वारा विश्व कीर्तिमान बनाए जाने पर उनके दादा सेवानिवृत कैप्टन रामकिशोर व उनके पिता और सिक्स सिग्मा हाई ऐल्टिटूड मेडिकल सर्विस के निदेशक डॉक्टर प्रदीप भारद्वाज ने कहा कि बच्चे ऊर्जा का भंडार होते हैं और उनको सही दिशा में लगाना माता पिता का फर्ज होता है, जब स्कूल से गर्मी व सर्दी की छुट्टियाँ होती तो हम अंगद को ऊंचे पहाड़ी इलाकों में सेवा हेतु ले जाते थे। इस प्रकार अंगद भी रुचि लेने लग गया। उन्होंने कहा कि यदि बच्चों को सही दिशा- निर्देश मिले, तो दुनिया का कठिन से कठिन कार्य कार्य करने से भी पीछे नहीं हटते हैं। उनके द्वारा किए गए कार्य दूसरों बच्चों के लिए प्रेरणास्रोत बनते हैं।

उल्लेखनीय है कि अंगद भारद्वाज ने पहाड़ों में अत्यंत जोखिम भरे क्षेत्रों-अमरनाथ (14000 फीट) और केदारनाथ (12000 फीट) में नि:स्वार्थ सामाजिक सेवा प्रदान कर राष्ट का गौरव बढ़ाया है। नन्हा वीर ट्रेन हार्ड एंड फाइट इजी सिद्धांत में विश्वास रखता है, उसने सिक्स सिग्मा पर्वतारोहण दल के साथ भारतीय वायु सेना के गरुड़ कमांडो और आईटीबीपी (औली) में रैपलिंग, फिसलना, पर्वतारोहण और शून्य से कम तापमान में कार्य करने का प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

Next Story