Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Chief Minister Manohar Lal बोले, अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर घरों में रहकर अपने परिवार के साथ योगाभ्यास करें

मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Chief Minister Manohar Lal) ने कृष्णा आयुष विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र तथा हरियाणा योग परिषद के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित योगा फॉर वल्र्ड हेल्थ ' विषय पर अंतरराष्ट्रीय योग वेबीनार में संबोधित किया।

Chief Minister Manohar Lal बोले, अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर घरों में रहकर अपने परिवार के साथ योगाभ्यास करें
X

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Cm Manohar Lal) ने प्रदेशवासियों का आह्वान किया है कि इस कोरोना के समय में 21 जून को 6वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) के अवसर पर अपने-अपने घरों में रहकर अपने परिवार के साथ योग अभ्यास करें। उन्होंने कहा कि चूंकि इस साल कोरोना संकट के बीच अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है तो यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के सभी उपायों का भी अपनाया जाए।

मुख्यमंत्री कृष्णा आयुष विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र तथा हरियाणा योग परिषद के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित योगा फॉर वर्ल्ड हेल्थ ' विषय पर अंतरराष्ट्रीय योग वेबीनार में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस साल, हम योग का अभ्यास करें और दुनिया को एकता का संदेश दें और विश्व शांति के लक्ष्य को प्राप्त करें। वेबिनार में हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने भाग लिया और स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज और योग गुरू बाबा रामदेव ने जीवन में योग के महत्व पर अपने विचार सांझा किए और सबका मार्गदर्शन किया।मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि हर वर्ष 21 जून को प्रदेश व देश और अन्य देशों में सामूहिक रूप से एकत्र होकर योग करने के कार्यक्रम आयोजित किए जाते थे, परंतु इस बार वैश्विक कोरोना महामारी के कारण सामूहिक रूप से एकत्र होकर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस नहीं मना पाएंगे। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2020 को घर में रहते हुए अपने परिवार के साथ योग करके मानना चाहिए ।

उन्होंने कहा कि योग प्राचीनकाल से भारत की पहचान है, परंतु कालांतर में योग केवल साधु, संतों और सन्यासियों के लिए ही माना जाने लगा और आमजन मानस योग से दूर होता गया। हज़ारों वर्षों के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को विश्व स्तर पर पहचान दिलाई और वर्ष 2015 में यूएन में प्रस्ताव पारित होने के बाद 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मान्यता मिली और आज दुनिया के लगभग सभी देशों में योग किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि योग की विरासत को योग गुरू बाबा रामदेव ने भी आगे बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार भी निरंतर योग के प्रसार के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि योग के लिए गाँवों में व्यायामशालाएं स्थापित की गई हैं और इन व्यायामशालाओं में एक हज़ार योग शिक्षक नियुक्त किए गए हैं। इसके साथ ही, योग के महत्व को बच्चों-बच्चों तक पहुंचाने के लिए स्कूल स्तर पर योग को पाठ्यक्रम में भी शामिल किया गया है।


और पढ़ें
Next Story