Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चौधरी बंसीलाल यूनिवर्सिटी : अब दान की मशीन से खुद को सैनिटाइज करेंगे अधिकारी व कर्मचारी

मशीन लगने की बात कर्मचारियों के बीच चर्चा का विषय बनी रही। जिस समय कोरोना संक्रमण अपने पीक पर था विश्वविद्यालय प्रशासन को यह कदम कर्मचारी व अधिकारियों के हित में खुद के स्तर पर उस समय ही उठा लेना चाहिए था। दान की मशीन तीसरी लहर में कर्मचारियों व अधिकारियों को मानसिक रूप से मजबूत करने का काम करेगी।

चौधरी बंसीलाल यूनिवर्सिटी : अब दान की मशीन से खुद को सैनिटाइज करेंगे अधिकारी व कर्मचारी
X

भिवानी : ऑटोमैटिक सेनिटाइजर मशीन के साथ उपस्थित विवि के पदाधिकारी।

हरिभूमि न्यूज : भिवानी

शहर के लोगों को कोरोना के बारे में जागरूक करने तथा विश्वविद्यालय की दो अनुबंधित गाडि़यों को कोविड सेवा में निशुल्क देने वाले चौधरी बंसीलाल यूनिवर्सिटी के अधिकारी व कर्मचारी अब दान के रूप में मिली ऑटोमैटिक सेनिटाइजर मशीन से खुद को सेनिटाइज करेंगे । शहर के एक व्यापारी द्वारा यह मशीन विश्वविद्यालय में लगवाई गई है। मशीन लगने की बात कर्मचारियों के बीच चर्चा का विषय बनी रही। जिस समय कोरोना संक्रमण अपने पीक पर था विश्वविद्यालय प्रशासन को यह कदम कर्मचारी व अधिकारियों के हित में खुद के स्तर पर उस समय ही उठा लेना चाहिए था। दान की मशीन तीसरी लहर में कर्मचारियों व अधिकारियों को मानसिक रूप से मजबूत करने का काम करेगी।

प्रशासन के साथ कंधा से कंधा मिलाकर काम कर रही सीबीएलयू

वैश्विक महामारी के खिलाफ जंग में जिला प्रशासन के साथ चौधरी बंसी लाल विश्वविद्यालय, शिक्षण एवं सामाजिक संस्थान कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रहे हैं। इसी कड़ी में वैश्विक महामारी कोविड के खिलाफ विश्वविद्यालय द्वारा संचालित विशेष जागरूकता अभियान के अब सार्थक परिणाम दिखने लगे हैं। ये विचार कुलपति प्रो.राजकुमार मित्तल ने गुरूवार को विश्वविद्यालय में लगाई गई ऑटोमैटिक सेनिटाइजर मशीन के उद्घाटन अवसर पर कहे। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा कोविड महामारी से बचाव के लिए अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। विश्वविद्यालय की अपनी दो अनुबंधित गाडि़यां कोविड सेवा में निशुल्क स्वास्थ्य विभाग में चल रही हैं।

आनलाइन संचालित किए जा रहे योग शिविर

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के योग विभाग द्वारा निरंतर निशुल्क योग शिविर ऑनलाइन संचालित किए जा रहे हैं। एनएसएस वालेंटियर्स द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष जागरूकता अभियान के तहत सामूहिक हुक्का नहीं पीने, सामूहिक बैठक नहीं करने, ताश नहीं खेलने, उचित शारीरिक दूरी बनाए रखने, मास्क का प्रयोग करने, हैंड सेनिटाइज करने,अधिक से अधिक टीकाकरण आदि के प्रति जागरूक किया जा रहा है जिसके अब सार्थक परिणाम दिखने लगे हैं। विश्वविद्यालय द्वारा विद्यार्थियों एवं लोगों के मानसिक स्वास्थ्य को मजबूत बनाने के लिए ऑनलाइन परामर्श एवं काउंसिलिंग शुरू कर मनो विशेषज्ञों की ड्यूटी लगाकर हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि हम जागरूक एवं सशक्त होकर कोरोना महामारी से लड़ रहे हैं निश्चित तौर कोरोना हारेगा, भारत जीतेगा। इस अवसर पर सीबीएलयू के स्टॉफ सदस्य व अधिकारी उपस्थित रहे।

Next Story