Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद में असलहा के बल पर कार सवारों ने प्रॉपर्टी डीलर का किया अपहरण

पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर रिटायर्ड पुलिसकर्मी समेत दो लोगों को नामजद कर दर्जनभर अन्य के खिलाफ अपहरण, शस्त्र अधिनियम समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस की दो टीमें अपहरण करने वालों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

जींद में असलहा के बल पर कार सवारों ने प्रॉपर्टी डीलर का किया अपहरण
X

एसपी आवास के बाहर नारेबाजी करते प्रॉपर्टी डीलर के परिजन। 

हरिभूमि न्यूज. जींद

रानी तालाब पर रविवार सुबह गाडियों में सवार लोगों ने प्रॉपर्टी डीलर का असलहा के बल पर अपहरण कर लिया और उसकी स्कूटी को भी गाडी में अपने साथ डालकर ले गए। जब लोगों ने अपहरण करने वालों को रोकने की कोशिश की तो उन्हें भी असलहा दिखाकर धमकाया गया। जिन पर आरोप लगें है, उन्हें रिटायर्ड पुलिसकर्मी भी शामिल है।

पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर रिटायर्ड पुलिसकर्मी समेत दो लोगों को नामजद कर दर्जनभर अन्य के खिलाफ अपहरण, शस्त्र अधिनियम समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस की दो टीमें अपहरण करने वालों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। प्रॉपर्टी डीलर की सुरक्षित बरामदगी की मांग को लेकर परिजनों ने एसपी आवास पर पुलिस के खिलाफ नारेबाजीं की। मामले को रुपयों के लेन-देन से जोडकर देखा जा रहा है।

क्या है मामला

कौशिक नगर निवासी कपिल 40 पेशे से प्रॉपर्टी डीलर का कार्य करता है। रविवार सुबह वह स्कूटी पर सवार होकर रेलवे रोड पर जा रहा था। रानी तालाब के निकट दो गाड़ियों में सवार होकर पहुंचे असलहाधारी लोगों ने कपिल को उठाकर गाडी में डाल लिया और उसकी स्कूटी को भी साथ ले गए। जब रानी तालाब पर मौजूद लोगों ने अपहरण करने वालों को रोकने की कोशिश की तो उन्हें भी असलहा दिखाकर धमकाया गया। प्रोपट्री डीलर के परिजनों ने अपहरण की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी लेकिन तब तक अपहरणकर्ता प्रॉपर्टी डीलर को लेकर फरार हो चुके थे। जिन पर आरोप लगे हैं, उनमें रिटायर्ड पुलिसकर्मी फूला, उसका भाई रणबीर तथा कुछ अन्य लोग हैं। कपिल के परिजनों की शिकायत पर शहर थाना पुलिस ने रिटायर्ड पुलिसकर्मी फूला, उसके भाई रणबीर को नामजद कर कुछ अन्य के खिलाफ अपहरण, शस्त्र अधिनियम समेत विभिन्न धारओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

एसपी आवास पहुंचे परिजन, सुरक्षित बरामदगी की मांग, की नारेबाजी

कपिल के अपहरण के छह घंटे बीत जाने के बाद परिजन एसपी आवास पर पहुंचे। कार्यवंश एसपी आवास पर मौजूद नहीं थे और बाहर गए हुए थे। परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस आरोपितों से मिली हुई है। अपहरण को छह घंटे बीत चुके है, बावजूद इसके पुलिस कपिल को बरामद नहीं कर पाई है। मां कैलाशो तथा पत्नी पूनम ने कपिल की जान को खतरा बताया। खफा परिजनों ने सुरक्षित बरामदगी न होने पर आत्महत्या तक की धमकी दे डाली। इस दौरान परिजनों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। परिजनों ने बताया कपिल के पिता के सामने किसी से रुपयों के लेन देन की बात हुई थी। उनके परिवार का उससे कोई लेना देना नहीं था। कपिल के पिता की मौत को अढाई वर्ष बीत चुके हैं। अब फूला व उसके साथी कपिल को परेशान कर रहे थे।

शहर थाना प्रभारी विरेंद्र ने बताया कि परिजनों की शिकायत पर अपहरण व शस्त्र अधिनियम समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस की दो टीमें संभावित अपहरणकर्ताओं की ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। जल्द ही अपह्रत को बरामद कर लिया जाएगा।

और पढ़ें
Next Story