Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haryana : सस्ता सोना दिलाने और पैसे दोगुने करने का झांसा देकर ठगता था कैंडी बाबा

कैंडी बाबा फरीदाबाद(Faridabad) में भेष बदलकर रह रहा था। उस पर पंजाब और हरियाणा के विभिन्न थानों में धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं। हरियाणा के साथ-साथ पंजाब पुलिस भी इसकी तलाश में एक साल से लगी हुई थी।

Kandy Baba
X
तथाकथित कैंडी बाबा उर्फ राजेश

हरिभूमि न्यूज. कुरुक्षेत्र

तंत्र विद्या से लोगों के पैसे दोगुना करने के बहाने करोड़ों की ठगी करने वाले तथाकथित कैंडी बाबा(Kandy Baba) उर्फ राजेश को फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार (Arrested) किया है। वह फरीदाबाद(Faridabad) में भेष बदलकर छुपकर रह रहा था। कैंडी और उसके साथियों पर हरियाणा और पंजाब (Haryana and Punjab)के विभिन्न शहरों में धोखाधड़ी के साथ-साथ अवैध असलहा रखने की भी एफआईआर दर्ज है। हरियाणा के साथ-साथ पंजाब पुलिस भी इसकी तलाश में एक साल से लगी हुई थी।

तथाकथित कैंडी बाबा उर्फ राजेश ने कुरुक्षेत्र जिला के गांव शरीफगढ़ में अपना डेरा वड़भाग सिंह जमाए हुए था। उस पर नकली सोने का कारोबार करने के साथ-साथ नकली नोट भी खपाने का आरोप है। उसके खिलाफ हरियाणा सहित पंजाब में दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। फरीदाबाद पुलिस ने कैंडी को गिरफ्तार कर 10 दिन की पुलिस रिमांड पर पूछताछ के लिए लिया है। इसके बाद ही उसे कुरुक्षेत्र लाया जाएगा। कुरुक्षेत्र सीआईए स्टाफ भी उसे प्रोडक्शन वॉरंट पर लाने के प्रयास में जुट गया है। पुलिस के मुताबिक कभी दिल्ली में भजन मंडली में ढोलक बजाने वाला राजेश उर्फ कैंडी पानीपत के समालखा कस्बे का रहने वाला है। पुलिस के अनुसार कैंडी ने अबतक 100 करोड़ से अधिक की राशि लोगों से ठगी है।

कैंडी बाबा के खिलाफ हरियाणा में कई मामले है दर्ज

मोहाली के सेक्टर-68 के चंद्र अग्रवाल ने लालड़ू पुलिस को शिकायत दी थी कि ढोंगी बाबा राजेश उर्फ कैंडी ने उसके साथ पैसा दोगुना करने के चक्कर में धोखाधड़ी की थी। इसी तरह चंडीगढ़ के प्रोग्रेसिव सोसायटी सेक्टर-50 के गुरप्रीत सिंह ने भी राजेश उर्फ कैंडी के खिलाफ ठगी की शिकयत दर्ज करवाई थी, जिस पर पुलिस ने रेड मारकर बाबा व इसके साथियों को नकदी, 32 बोर की पिस्तौल, 11 कारतूस व जादुई ट्रिक दिखाने वाले बॉक्स के साथ गिरफ्तार किया।

लोगों को पैसे दोगुने करने का लोभ दिखाकर करता था ठगी

कैंडी बाबा लोगों को पैसे दोगुने करने का लोभ दिखाकर ठगी करता था। वह अंधेरे कमरे में मोमबत्तियां जलाकर पैसों की बरसात करने का झांसा देता था। ऐसा ही एक खेल इस बाबा ने कृष्ण कुमार निवासी अमरगढ़ गामड़ी के साथ खेला था। बाबा ने कृष्ण कुमार का हाथ देखकर उसकी समस्या दूर करने के लिए कहा था। पहले 10 रुपये के 140 रुपये बनाए और फिर 50 लाख रुपये मंगवाकर नोटों की बरसात करने का झांसा दिया। शिकायतकर्ता के अनुसार बाबा ने उसे अंधेरे कमरे में बुलाकर मोमबत्तियां जलाकर नोटों की बरसात की और नोट एकत्रित करने को कहा, जो बाद में मात्र 9 लाख 17 हजार निकले। बाद में बाबा ने कृष्ण से ही 40 लाख रुपये मंगवाए और करोड़ों की बरसात करने का झांसा दिया लेकिन इसके बाद न कोई बरसात और न कोई बाबा नजर आया।

नए जेवर सस्ते में दिलाने का देता था झांसा

कैंडी पर नकली नोट और नकली सोने की ईंट खपाने का भी आरोप है। कैथल निवासी रामचंद्र ने इस बात का खुलासा किया था। तांत्रिक ने रामचंद्र से भी 30 लाख के जेवर लिए थे और नए जेवर सस्ते में दिलाने का झांसा दिया था। बाद में रामचंद्र से 24 लाख लेकर मौके पर ही एक सोने की ईंट दी थी जो नकली निकली थी। रामचंद्र के दबाव बनाने पर कैंडी ने 2-2 हजार के नोट दिए थे, जोकि नकली निकले थे, इसलिए पुलिस हर पहलू से तांत्रिक के खिलाफ जांच में जुटी है।

Next Story