Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

60 हजार रुपये लेकर भ्रूण लिंग जांच करवाता दलाल गिरफ्तार, पहले तीन बार जा चुका इसी आरोप में जेल

आरोपित की पहचान धर्मेंद्र उर्फ सोनू निवासी भिंडावास के तौर पर हुई है। आरोपित इसी वर्ष जनवरी माह में जमानत पर छूटकर आया था।

60 हजार रुपये लेकर भ्रूण लिंग जांच करवाता दलाल गिरफ्तार, पहले तीन बार जा चुका इसी आरोप में जेल
X

पकड़ा गया आरोपित पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ।

हरिभूमि न्यूज. झज्जर

भ्रूण लिंग जांच के आरोप में तीन बार पकड़े गए आरोपित को एक बार फिर भ्रूण लिंग जांच के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपित की पहचान धर्मेंद्र उर्फ सोनू निवासी भिंडावास के तौर पर हुई है। आरोपित इसी वर्ष जनवरी माह में जमानत पर छूटकर आया था। स्थानीय नागरिक अस्पताल की पीएनडीटी नोडल अधिकारी डॉक्टर ममता सोनी ने बताया कि उनको सूचना मिली थी कि गुरुग्राम जिले मेें एक ऐसा गिरोह सक्रिय है जिसके तार झज्जर जिले के लोगों से जुड़े हैं।

वह लोगों को अपने जाल में फंसाकर भ्रूण लिंग जांच कराते हैं। उसके बाद योजना तैयार की गई। रेवाड़ी से एक गर्भवती महिला प्रलोभन ग्राहक को तैयार किया गया। उसके बाद गुरुग्राम जिले के फार्रुखनगर में एक हैल्थ लैब चला रहे लैब के संचालक रोहित व उसके यहां काम करने वाले रवि से संपर्क साधा गया। उन्होंने साठ हजार रुपये मांगे। सौदा तय हो जाने के बाद गिरोह के इन सदस्यों ने महिला ग्राहक को बृहस्पतिवार को स्थानीय नागरिक अस्पताल के सामने मिलने की बता कही। तय समयानुसार रवि व रोहित स्वीफ्ट गाड़ी में गिरोह के सदस्यों के साथ दो बाइक सवार को साथ लेकर झज्जर पहुंचे।

रवि ने प्रलोभन ग्राहक से नागरिक अस्पताल की पर्ची कटवाने की बात कही और 60 हजार रुपये ले लिए। सिविल अस्पताल से पर्ची कटने के बाद गिरोह के सदस्य महिला को बाइक पर बैठाकर शहर के एक अस्पताल में पहुंचे। यहां गिरोह के कुछ सदस्य अस्पताल के बाहर गाड़ी में बैठे रहे, जबकि रवि व रोहित अस्पताल के बाहर ही पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए थे। इसी दौरान गिरोह में शामिल भिंडावास गांव का दलाल धर्मेंद्र महिला को लेकर अस्पताल में पहुंचा और उसे वहीं पर बैठाकर महिला की ही पुरानी अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट देखकर उसे उसके गर्भ में लड़का होने की बात बताई। उसी दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इशारा मिलने पर रेड कर दी। गिरोह के अन्य सदस्य मौके से फरार हो गए जबकि दलाल धर्मेंद्र टीम की पकड़ में आ गया। इस मामले मेें स्वास्थ्य विभाग की शिकायत पर सिटी थाने में दलाल धर्मेंद्र सहित 8 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। गिरोह के इन सदस्यों में एक छात्र, एक लैब संचालक भी शामिल है।


Next Story