Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सिरसा नप चुनाव में कांडा समर्थक से हारीं भाजपा की उम्मीदवार

चेयरपर्सन चुनाव में सांसद सुनीता दुग्गल व विधायक गोपाल कांडा सहित 30 पार्षदों ने मतदान किया, कांडा समर्थक रीना सेठी ने भाजपा उम्मीदवार सुमन बामनियां को 2 वोटों के अंतर पराजित कर दिया।

सिरसा नप चुनाव में कांडा समर्थक से हारीं भाजपा की उम्मीदवार
X

विजयी उम्मीदवार रीना सेठी।

सिरसा : सिरसा नगर परिषद चेयरपर्सन के लंबे अरसे बाद हुए चुनाव में मुख्यमंत्री मनोहर लाल को समर्थन देने वाले सिरसा के विधायक गोपाल कांडा ने भाजपा को पटकनी दे दी। कांडा समर्थक रीना सेठी ने भाजपा उम्मीदवार सुमन बामनियां को 2 वोटों के अंतर पराजित कर दिया। सुमन बामनिया मुख्यमंत्री के पूर्व राजनीतिक सलाहकार जगदीश चोपड़ा की समर्थक हैं। चेयरपर्सन चुनाव में सांसद सुनीता दुग्गल व विधायक गोपाल कांडा सहित 30 पार्षदों ने मतदान किया।

इस दौरान कांग्रेस समर्थित वार्ड नंबर 22 से पार्षद बलजीत कौर ने चुनाव का बहिष्कार किया। चुनाव के लिए प्राधिकृत अधिकारी एवं सिरसा के एसडीएम जयवीर सिंह ने ईवीएम से चुनावी प्रक्रिया को संपन्न करवाया। इस दौरान वार्ड नंबर 17 से हलोपा समर्थित पार्षद रीना सेठी को 17 जबकि वार्ड नंबर 28 से पार्षद सुमनलता बामनियां को 15 वोट मिले। हलोपा समर्थित रीना सेठी को 2 वोटों से विजयी घोषित किया गया।

नगर परिषद की प्रधान चुनी गई रीना सेठी ने जीत के बाद कहा कि वे पूरे सिरसा शहर के विकास के लिए सभी पार्षदों को साथ लेकर काम करेगी। सिरसा के विधायक गोपाल कांडा ने रीना सेठी की जीत को पूरे शहरवासियों की जीत बताते हुए कहा कि उनका मुख्य एजेंडा विकास की राजनीति करना है। इसी एजेंडे पर काम करते हुए उन्होंने हरियाणा सरकार को बिना शर्त समर्थन दिया है। अब रीना सेठी की जीत के बाद सिरसा शहर में विकास कार्यों की कोई कमी नहीं रहेगी।

कांग्रेस का असली चरित्र सामने आया: आदित्य चौटाला

भाजपा के जिलाध्यक्ष आदित्य चौटाला ने नगर परिषद सिरसा के चेयरपर्सन के चुनाव में दो वोटों से भाजपा प्रत्याशी को मिली हार पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यहां जनता की ताकत हारी है। साथ ही उन्होंने कहा कि इस चुनाव में कांग्रेस का असली चरित्र भी जनता के सामने आ गया। उन्होंने कहा कि भाजपा के तो सभी पार्षद अपनी जगह पर कायम रहे, लेकिन कांग्रेस व दूसरे दलों के पार्षदों की क्या भूमिका रही, यह सिरसा की जनता के सामने स्पष्ट हो गई।

Next Story