Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

निर्माणाधीन रेलवे पुल से नीचे गिरी बाइक, एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर

कृष्ण (21) अपने हम उम्र साथी ओल्ड कोर्ट रोड जींद निवासी तरूण के साथ बीती रात बाइक पर सवार होकर सीआरएसयू की तरफ से गोहाना रोड की तरफ लौट रहे थे। रोहतक रोड पर निर्माणाधीन रेलवे पुल से उनकी बाइक नीचे पटरी पर जा गिरी जिसमें कृष्ण की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तरूण गंभीर रूप से घायल हो गया। चिकित्सकों ने तरूण को पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया।

निर्माणाधीन रेलवे पुल से नीचे गिरी बाइक, एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर
X

मृतक के शव का पोस्टमार्टम के लिए कागजी कार्रवाई करते हुए रेलवे पुलिसकर्मी। 

हरिभूमि न्यूज. जींद

रोहतक रोड बाईपास निर्माणाधीन रेलवे पुल पर बीती रात बाइक लगभग 50 फिट की ऊंचाई से नीचे रेलवे लाइन पर जा गिरी। जिसमें बाइक सवार एक युवक की मौत हो गई जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। निर्माणाधीन पुल का रेलवे का हिस्सा अभी तक नहीं बना है। रेलवे पुलिस ने मृतक के शव का सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया है।

मूलत: यूपी हाल आबाद फिरोजपुर पंजाब निवासी कृष्ण (21) अपने हम उम्र साथी ओल्ड कोर्ट रोड जींद निवासी तरूण के साथ बीती रात बाइक पर सवार होकर सीआरएसयू की तरफ से गोहाना रोड की तरफ लौट रहे थे। रोहतक रोड पर निर्माणाधीन रेलवे पुल से उनकी बाइक नीचे पटरी पर जा गिरी जिसमें कृष्ण की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तरूण गंभीर रूप से घायल हो गया। चिकित्सकों ने तरूण को पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। मृतक कृष्ण तथा घायल तरूण दोनों सामान्य अस्पताल में आउटसोसर्सिंग के तहत कंप्यूटर आपरेटर थे। रेलवे पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया।

निर्माणाधीन पुल को नहीं किया गया था बंद, लापरवाही से हुआ हादसा

रोहतक रोड बाईपास पर निर्माणाधीन रेलवे पुल के दोनों और का हिस्सा बीएंडआर द्वारा पूरा किया जा चुका है जबकि रेलवे ने अभी अपने हिस्से में निर्माण नहीं किया गया है। ठेकेदार द्वारा निर्माणाधीन पुल के दोनों सिरों को बंद नहीं किया गया। जिसके कारण दोनों निर्माणाधीन रेलवे पुल पर बाइक लेकर चले गए। रेलवे लाइन पर बीच का हिस्सा खाली होने की जानकारी न होने के कारण उनका बाइक 50 फुट की ऊंचाई से रेलवे लाइन पर जा गिरा।

मृतक के चाचा रविंद्र ने बताया कि कृष्ण अक्टूबर 2019 में एनएचएम में आउटसोर्सिंग के तहत कंप्यूटर आप्रेटर के तौर पर सामान्य अस्पताल में लगा था। कृष्ण शहर में कमरा किराये पर लेकर रह रहा था और वह विवाहित था। रात को उन्हें घटना के बारे में सूचना मिली। रविंद्र ने आरोप लगाया कि ठेकदेार की लापरवाही के कारण उसके भतीजे की मौत हुई है। अगर निर्माणाधीन पुल का रास्ता बंद होता तो शायद यह हादसा नहीं होता।

रेलवे के जांच अधिकारी बलवंत ने बताया कि दोनों बाइक सवार गलती से निर्माणाधीन पुल पर चले गए। उन्हें बीच में खाली पुल के बारे में जानकारी नहीं थी। जिसके चलते यह हादसा हुआ। शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

Next Story