Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सिरसा : पुलिस की बड़ी सफलता, अवैध हथियारों का जखीरा बरामद

पुलिस ने पकड़े गए दोनों आरोपियों के कब्जा से 14 अवैध पिस्तौल 24 जिंदा कारतूस बरामद किए है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी दारा सिंह अपराधिक प्रवृत्ति का है और उसके खिलाफ हत्या,हत्या का प्रयास,बलात्कार,शस्त्र अधिनियम ,चोरी व मारपीट सहित विभिन्न धाराओं के तहत 11अपराधिक मामलें पहले ही दर्ज है ।

सिरसा : पुलिस की बड़ी सफलता, अवैध हथियारों का जखीरा बरामद
X

सिरसा : दिसंबर सीआईए सिरसा पुलिस ने अवैध हथियारों का जखीरा बरामद कर दो लोगों को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है । इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला के पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान दारा सिंह उर्फ दिलदार पुत्र शमशेर सिंह निवासी वैदवाला व अमरजीत सिंह पुत्र गुलजार सिंह निवासी खैरपुर जिला सिरसा के रुप में हुई है ।

उन्होने बताया कि पुलिस ने पकड़े गए दोनों आरोपियों के कब्जा से 14 अवैध पिस्तौल 24 जिंदा कारतूस बरामद किए है । पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सीआईए प्रभारी इंस्पेक्टर नरेश कुमार को महत्वपूर्ण सूचना मिली की खैरपूर क्षेत्र में कुछ लोगों के पास अवैध हथियारों का भारी मात्रा में जखीरा है और वे किसी बड़ी अपराधिक वारदात को अंजाम देने के फिराक में है । उन्होने बताया कि इस सूचना को पाकर सीआईए प्रभारी ने सहायक उप निरीक्षक अवतार सिंह के नेतृत्व में एक पुलिस टीम का गठन किया।

पुलिस टीम ने खैरपुर क्षेत्र में दबिश देकर स्कूटी सवार दोनों आरोपियों को अवैध हथियारों के साथ काबू कर लिया । पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ सिविल लाइन थाना सिरसा में शस्त्र अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज किया गया है । उन्होने बताया कि पकड़े गए आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड हिरासत पुलिस हासिल किया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान अवैध हथियारों के इस नेटवर्क के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की जाएगी और जो भी इसमें सलिंप्त पाया गया उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी ।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी दारा सिंह अपराधिक प्रवृत्ति का है और उसके खिलाफ हत्या,हत्या का प्रयास,बलात्कार,शस्त्र अधिनियम ,चोरी व मारपीट सहित विभिन्न धाराओं के तहत 11अपराधिक मामलें पहले ही दर्ज है । उन्होने बताया कि पकड़ा गया आरोपी दारा सिंह अपने अन्य साथियों को शामिल कर इन अवैध हथियारों से अपने पुराने विरोधियों पर हमला करने की फिराक में था । पुलिस अधीक्षक ने सीआईए टीम की पीठ थप-थपाई और उनके इस सहरानीय कार्य के लिए सम्मानित करने की घोषणा भी की ।

Next Story