Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बरोदा उपचुनाव : अंतिम चरण में रोचक बनने लगा माहौल

एक ओर जहां सत्ता पक्ष की ओर से सूबे के मुख्यमंत्री "मनो" प्रदेश में छह साल के विकास का चिट्ठा रखकर लोगों से वोट की अपील कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में सत्ताधारी दल भाजपा के गठबंधन के साथी जजपा नेता सान नेता चौधरी देवीलाल की याद दिलाते हुए तीसरी व चौथी पीढ़ी वोट की अपील कर रहे हैं।

बरोदा उपचुनाव : अंतिम चरण में रोचक बनने लगा माहौल
X

योगेंद्र शर्मा. चंडीगढ़

बरोदा विधानसभा सीट पर उपचुनाव (By-election) के लिए प्रचार अपने अंतिम चरण में रोचक बनता जा रहा है। एक ओर जहां सत्ता पक्ष की ओर से सूबे के मुख्यमंत्री "मनो" प्रदेश में छह साल के विकास (Development) का चिट्ठा रखकर लोगों से वोट की अपील कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में सत्ताधारी दल भाजपा के गठबंधन के साथी जजपा नेता सान नेता चौधरी देवीलाल की याद दिलाते हुए तीसरी व चौथी पीढ़ी वोट की अपील कर रहे हैं। गुरुवार का दिन कुछ खास रहा क्योंकि भाजपा, जजपा, कांग्रेस, लोकदल सभी पार्टियों के सियासी दिग्गज बरौदा के चुनावी मैदान में पसीना बहाते हुए नजर आए।

कुल मिलाकर हरियाणा में गठबंधन के साथ गत एक साल से सरकार चला रहे प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल बरोदा की जनता के बीच में जाकर विकास और साफ सुथरी राजनीति के नाम पर वोट की अपील कर रहे हैं। सीएम अपने पहले पांच साल के कार्यकाल के दौरान हुए कामकाज का पूरा ब्योरा जनता के बीच रखकर विपक्षी दलों पर जातिवाद, क्षेत्रवाद, भाई भतीजावाद, करप्शन जैसे विषय को लेकर हमला बोल रहे हैं। सीएम मनो जनता के सामने अपने पिछले पांच और एक साल यह छहः साल का चिट्ठा रख रहे हैं।

उधर, सत्ताधारी दल भारतीय जनता पार्टी के गठबंधन के साथी जननायक जनता पार्टी की ओर से डाक्टर अजय सिंह चौटाला, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, दिग्विजय चौटाला भी बरौदा क्षेत्र में लोगों से पहलवान योगेश्वर के लिए वोट की अपील कर रहे हैं। गुरुवार को पूरे परिवार ने लोगों से वोट की अपील की और अपने परदादा चौधरी देवीलाल के साथ में पुराने रिश्तों की बात कही। खास बात यह है कि पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला के भाई व राज्य की मनोहरलाल सरकार में मंत्री चौधरी रणजीत सिंह भाजपा प्रत्याशी के लिए वोट की अपील कर रहे हैं। वे कांग्रेस के साथ-साथ में लोकदल तमाम पिछली सरकारों के कामकाज और फेल होने के कारण गिनाना नहीं भूलते।

उधर, पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला और उनके विधायक बेटे अभय सिंह चौटाला इस क्षेत्र में लोकदल प्रत्याशी के लिए वोट की अपील कर रहे हैं। इतना ही नहीं वे भाजपा के साथ-साथ जजपा नेताओं पर भी हमला करना नहीं भूलते। लोकदल नेताओं को भी इस उपचुनाव के बाद में हरियाणा में माहौल बदल जाने की उम्मीद लगी हुई है।

इसके अलावा बरौदा उपचुनाव अब पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उनके सांसद बेटे दीपेंद्र सिंह हुड्डा के लिए भी कांग्रेस के गढ़ में कांग्रेस की पुरानी सीट को बचाना प्रतिष्ठा का प्रश्न बन चुका है। उनके अलावा कांग्रेस के सभी वर्तमान विधायक और पीसीसी अध्य़क्ष कुमारी सैलजा खुद वहां पर प्रचार के लिए पहुंची हुई हैं। इसी तरह से मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता और राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला भी पार्टी प्रत्याशी को जिताने के लिए रात दिन एक किए हुए हैं। कुल मिलाकर अब शनिवार और रविवार के दिन भी इस बार बरौदा क्षेत्र के गांवों के लिए बेहद ही अहम होंगे, क्योंकि उसके बाद में चुनाव प्रचार की मुहिम थम जाएगी।

अजब गजब का बना संयोग

हरियाणा के सोनीपत जिले की बरोदा सीट पर वक्त और नियति का फेर देखिये वहां पर लोकदल के सुप्रीमो और पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला व उनके विधायक बेटे अभय सिंह चौटाला भाजपा व जजपा पह हमला बोलते हुए अपने प्रत्याशी के लिए वोट की अपील कर रहे हैं। दूसरी तरफ वक्त की बात है कि चौधरी देवीलाल का नाम लेकर पोता डाक्टर अजय सिंह व परपोते दुष्यंत व दिग्विजय भाजपा के लिए वोट की अपील कर रहे हैं। इस तरह से मंत्री रंजीत सिंह चौटाला पूर्व सीएम ओपी चौटाला के सगे भाई हैं, जो भाजपा के लिए वोट की अपील कर रहे हैं। कुल मिलाकर बरौदा सीट पर माहौल बेहद ही रोचक बना हुआ है।

उपचुनाव को लेकर तैयारी पूर्ण- मुख्य निर्वाचन अधिकारी

राज्य की बरोदा विधानसभा सीट पर उपचुनावों को लेकर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने साफ कर दिया है कि उनकी प्राथमिकता निष्पक्षता के साथ सुरक्षित चुनाव कराना है। इस सीट पर चुनाव को लेकर तैयारी पूर्ण हो गई है। इस बार कोविड को ध्यान में रखते हुए मतदान केंद्र बढ़ा दिए गए हैं। मुख्य निर्वाचन अधिकारी हरियाणा अनुराग अग्रवाल का कहना है कि अग्रवाल ने बताया कि का बरोदा उप चुनाव को लेकर कोविड के नियमों का पालन किया जाएगा। कोविड-19 से वोटिंग पर असर नहीं हो इसके लिए चुनाव आयोग की ओर से सारी तैयारी की गई है। पोलिंग पार्टी को पीपीई किट, दास्ताने, सैनिटाइजर बाकी सामग्री उपलब्ध कराने का आदेश दिया है। एक मतदान केंद्र पर 15 सौ मतदाता पूर्व में होने वाले चुनावों में होते थे। लेकिन बरौदा में घटाकर एक हजार एक केंद्र किया गया है, जिससे ज्यादा मतदाता नहीं होंगे, बौरादा 57 केंद्र नए बूथ बढ़ा दिए गए हैं। इस बार चुनाव आयोग की ओर से मतदान के लिए समय अवधि भी बढ़ा दी गई है। इस बार सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक मतदान होगा। बरोदा में पिछली बार अर्थात इसी साल हुए चुनावों के दौरान 223 मतदान केंद्र थे। अब इनकी संख्या बढ़ाकर 280 कर दी गई है। पहली बार किया मीडिया पर आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करेगा, उस हालात में कड़ी कार्रवाई होगी।

Next Story