Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बैंक मैनेजर ही ठगे गए : साइबर ठगों ने खाता हैक करके निकाले 15.53 लाख रुपये

सेवानिवृत्त बैंक मैनेजर का खाता समता चौक के पास स्थित पीएनबी की शाखा में है। ठगों ने उनके नाम से इसी शाखा में चार अन्य खाते खोलकर ठगी कर डाली।

Cyber criminals extorted 53 thousand rupees from Siwan women inspector account hindi news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हरिभूमि न्यूज. गोहाना

शहर के उत्तम नगर के रहने वाले सेवानिवृत्त बैंक मैनेजर के साथ ऑनलाइन ठगी कर साइबर ठगों ने उनके खाते 15.53 लाख रुपये निकाल लिए। सेवानिवृत्त बैंक मैनेजर का खाता समता चौक के पास स्थित ओबीसी (पीएनबी) की शाखा में है। ठगों ने उनके नाम से इसी शाखा में चार अन्य खाते खोलकर ठगी कर डाली। जब उन्हें मामले का पता लगा तो पुलिस को अवगत कराया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

उत्तम नगर निवासी राजेंद्र सिंह ने सिटी थाना पुलिस को बताया कि पीएनबी की शाखा में उनका खाता है। वह बैंक से मैनेजर के पद से सेवानिवृत्त हुए है। राजेंद्र सिंह ने पुलिस को बताया कि अपने बैंक खाते को वह नेट बैंकिंग से भी आपरेट करते हैं। कई दिन से नेट बैंकिंग सही तरीके से काम नहीं कर रहा था। जिस पर उन्होंने 3 मार्च को गूगल पर कस्टमर केयर का नंबर सर्च किया था। उस पर बात करने के बाद उसे 72 घंटे में पीएनबी फंड ट्रांसफर का मैसेज मिला था। बाद में 5 मार्च को उन्हें पता लगा कि उनके खाते से धोखाधड़ी कर अलग-अलग समय में दो लाख रुपये, दो लाख रुपये व 8380 रुपये निकाले गए हैं। इसके साथ ही उन्हें चार अन्य बैंक खातों के मैसेज भी मिले थे।

लेकिन वह खाते उसके नहीं होने के कारण उन्होंने उन मैसेज पर ध्यान नहीं दिया। बाद में 5 मार्च को वह बैंक में पहुंचे और मैनेजर से मुलाकात की। तब उन्हें पता लगा कि किसी ने चार अन्य खाते उनके नाम से खोल रखे है। सभी बैंक खाते साइबर ठगों द्वारा उनका खाता हैक कर खोले गए हैं। जांच करने पर पता लगा कि 4 मार्च व 5 मार्च को अलग-अलग समय में उसके बैंक खातों से कुल 15 लाख 53 हजार 480 रुपये निकाले गए हैं। तब उन्हें ठगी का पता लगा। जिस पर उन्होंने मामले की शिकायत सिटी थाना पुलिस को दी। पुलिस ने चोरी व धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। अंदेशा है कि सेवानिवृत्त बैंक मैनेजर द्वारा जब कस्टमर केयर का नंबर लेकर उस नंबर पर बातचीत की गई तो उस दौरान उनसे जानकारी लेकर ठगी की गई है।

Next Story