Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंबाला : बहन से छेड़छाड़ की शिकायत करना पड़ा महंगा, पूरे परिवार पर हमला, 3 की हालत गंभीर

तीनों को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है। एक जख्मी को नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। पुलिस ने आठ हमलावरों के खिलाफ धारा 307 के साथ 148, 149, 323, 341, 307 व 506 के तहत केस दर्ज किया है।

अंबाला : बहन से छेड़छाड़ की शिकायत करना पड़ा महंगा, पूरे परिवार पर हमला, 3 की हालत गंभीर
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हरिभूमि न्यूज : अंबाला

अंबाला के गांव पिलखनी में हुए हमले में चार लोग जख्मी हो गए। घायलों में तीन की हालत खराब है। तीनों को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है। एक जख्मी को नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। इस सिलसिले में पुलिस ने आठ हमलावरों के खिलाफ धारा 307 के साथ 148, 149, 323, 341, 307 व 506 के तहत केस दर्ज किया है। आरोपियों की पहचान संग्राम सिंह, मुन्ना राणा, मन्नी राणा, बिल्ला राणा, विभु राणा, सन्नी बनिया, नीरज व धीरज के तौर पर बताई जा रही है। पिलखनी के रहने वाले जगरूप सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वर्ष 2015 में संग्राम सिंह ने उसकी चचेरी बहन के साथ छेड़छाड़ की थी।

उन्होंने संग्राम सिंह के खिलाफ पुलिस में शिकायत सौंपी थी। संग्राम सिंह के खिलाफ केस दर्ज हुआ था, लेकिन बाद में समझौता हो गया था लेकिन इस बात की संग्राम ने रंजिश रखी हुई थी। उसने बताया कि बीते रोज वह अपने साथी सतविंद्र सिंह के साथ बाइक पर अपने दोस्त दया सिंह के घर जा रहा था। रास्ते में विशाल राणा के घर के सामने गंडासी, कृपाण व डंडे-बिंडों से लैस संग्राम सिंह, मुन्ना राणा, मन्नी राणा, बिल्ला, विभु, सन्नी बनिया, नीरज व धीरज पंजाबी ने उनका रास्ता रोक लिया और हमला बोल दिया। उसका दोस्त सतविंद्र सिंह डरकर भाग गया। जगरूप सिंह ने बताया कि संग्राम सिंह, मुन्ना, मन्नी राणा और बिल्ला ने गंडासी और कृपाण से उसके सिर पर वार किया। मुन्ना ने कृपाण से उसके पेट में वार किया।

विभु ने कृपाण से पैर पर वार किया। सन्नी बनिया, नीरज व धीरज पंजाबी ने डंडे-बिंडों से मारा पीटा। हमलावरों से घिरा जगरूप सिंह खुद को बचाने की गुहार लगाता रहा, लेकिन लोग हमलावरों के हाथों में तेज हथियार देख बचाने के लिए आगे नहीं आए। हमले की भनक लगते ही उसके भाई रणदीप सिंह, कर्मजीत सिंह व गुरमीत सिंह आए, लेकिन हमलावरों ने उन पर भी जानलेवा हमला किया। अधमरा करके हमलावर फरार हो गए। इसके बाद चारों को लहूलुहान हालत में शहजादपुर सिविल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से रणदीप सिंह व गुरमीत सिंह को पीजीआई चंडीगढ़, जगरूप सिंह को सेक्टर-32 चंडीगढ़ मेडिकल कॉलेज तथा कर्मजीत सिंह को अंबाला शहर अस्पताल रेफर कर दिया। पुलिस अब आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास कर रही है।

और पढ़ें
Next Story