Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सराहनीय : Bhiwani में महिला की जान बचाने के लिए एएसआई देवेंद्र ने लगाई कुएं में छलांग

दिनोद गेट चौकी प्रभारी को आसपास के लोगो ने बताया की महिला अभी- अभी कुएं में कूदी है। मौके पर एएसआई देवेंद्र ने देखा कि महिला की सांसे चल रही हैं तो बिना कुछ सोचे समझे महिला को बचाने कुएं में उतर गए। रस्सियों के सहारे कुएं में उतरकर एएसआई देवेंद्र महिला को कुएं से बाहर निकाल लाए।

सराहनीय : Bhiwani में महिला की जान बचाने के लिए एएसआई देवेंद्र ने लगाई कुएं में छलांग
X
बुजुर्ग महिला को बचाने के लिए रस्सी के सहारे कुएं में उतरते हुए एएसआई देवेंद्र सिंह व बुजुर्ग महिला को रस्सी के सहारे कुएं से बाहर निकलवाते हुए।

कुलदीप शर्मा : भिवानी

जब भी कोई घटना होती है तो अक्सर लोग कहते हैं कि पुलिस अधिकारी व कर्मचारी लेट पहुंचते हैं लेकिन लोगों की इस धारणा को दिनोद गेट चौकी इंचार्ज एएसआई देवेंद्र (Asi devendra) ने रविवार को बदल कर रख दिया। पुलिस को जब कंट्रोल रूम (Control Room) में सूचना मिली कि एक महिला ने कुएं में छलांग लगा दी है तो मौके पर एएसआई देवेंद्र पहुंचे तथा जब उन्होंने देखा कि महिला की सांसे चल रही हैं तो बिना कुछ सोचे समझे महिला को बचाने कुएं में उतर गए। रस्सियों के सहारे कुएं में उतरकर एएसआई देवेंद्र महिला को कुएं से बाहर निकाल लाए।

सारी घटना तीसरी आंख यानि लोगों ने अपने फोेन में कैद कर ली तथा जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो एएसआई देवेंद्र की हिम्मत तथा हौसले को सलाम करने के लिए उनके पास बधाई का सिलसिला शुरू हो गया। महिला को पुलिस ने अपनी ही गाड़ी में सामान्य अस्पताल पहुंचाया तथा वहां से उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया।

भिवानी में रविवार सुबह लगभग आठ बजे कंट्रोल रूम से दिनोद गेट चौकी पुलिस को सूचना मिली कि एक बुजुर्ग महिला बाबा जहरगिरी आश्रम के निकट स्थित कुएं में छलांग मार गई। सूचना के तुरंत बाद दिनोद गेट पुलिस मौके पर पहुंची। दिनोद गेट चौकी प्रभारी को आसपास के लोगों ने बताया की महिला अभी अभी कुएं में कूदी है। चौकी प्रभारी भी लोगो से रस्सी मांग कर कुएं में उतर गए और महिला को बाहर निकाला। एएसआई देवेंद्र सिंह के जज्बे को देख कर लोगो ने वीडियो बनानी शुरू कर दी तथा कुछ लोगो ने भी पुलिस की मदद करनी शुरू कर दी। देवेंद्र सिंह कुएं में उतरे तो उन्होंने लोगो को कुएं से ही मदद के लिए सामान की हिदायते दी। लोगो ने भी तुरंत सीढ़ी ला कर दी साथ ही एक बोरी पर बांस से बांध कर कुएं में उतार दिया।

देवेन्द्र सिंह ने महिला को रस्से से बांध कर बोरी पर डाल कर लोगो की मदद से जिंदा ही बाहर निकाल लिया। लोगो ने देवेंद्र सिंह के सम्मान किया। महिला को तुरन्त सरकारी गाड़ी में अस्पताल ले जाया गया। वहां प्राथमिक उपचार के बाद महिला को रोहतक रेफर कर दिया। चौकी प्रभारी देवेंद्र सिंह से जब पूछा गया कि उन्होंने जान पर खेल कर महिला को बचाया है। उन्होंने बताया कि पुलिस की ड्यूटी निभाते हुए उन्होंने ऐसा कार्य किया है। प्रत्येक पुलिस कर्मी का फर्ज है कि वे वह अपनी जान की परवाह किये बगैर दूसरो की जान की रक्षा करे और उन्होंने वही किया है। उन्होंने बताया कि फिलहाल महिला के ब्यान नहीं हुए हैं जैसे ही महिला के ब्यान हो जाएंगे उसी के आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।

महिला चिल्लाती रहे बेटा मेरे लिए मत उतरो

जब महिला को कुएं में गिरा हुआ देखा तो देवेंद्र सिंह ने बिना देरी किए कुएं में उतरना शुरू कर दिया। एएसआई को कुएं में उतरता देख महिला बार बार कहती रही कि बेटा मेरे लिए कुएं में मत उतरो मेरे लिए अपनी जान जोखिम में मत डालो। वीडियो बनाने वाले बार बार कहते रहे कि कुएं में उतरने वाला व्यक्ति पुलिस अधिकारी है तथा उसे बचाने के लिए वो उतर रहे हैं।

कचरा ज्यादा था कुएं में इसलिए बच गई महिला

जिस कुएं में बुजुर्ग महिला ने छलांग लगाई वो काफी गहरा था लेकिन कुएं का प्रयोग नहीं होने के चलते उसमें गंदगी डाली जा रही थी तथा उसी के चलते महिला डूबने से बच गई। अगर कुएं में गंदगी नहीं होती तो महिला पानी में डूब जाती तथा उसकी मौत तक हो सकती थी। इतने सालों से यूज में नहीं होने वाले कुएं की गंदगी में सांप या अन्य जीव भी हो सकता था लेकिन महिला को बचाने के लिए देवेंद्र सिंह ने एक पल भी उस तरफ ध्यान नहीं दिया तथा महिला को बाहर निकाल लाए।

Next Story