Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जी-23 का मतलब है गद्दार-23 : अशोक तंवर

नया मोर्चा बनाते ही गरजे अशोक तंवर, कहा कांग्रेस के भीतर बैठी भाजपा की बी टीम, खत्म करेगी पार्टी को।

जी-23 का मतलब है गद्दार-23 : अशोक तंवर
X

पत्रकारों से बात करते अशोक तंवर।

हरिभूमि न्यूज:रोहतक

अपना भारत मोर्चे के गठन के बाद कांग्रेस पर अशोक तंवर ने जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने यहां तक कहा कि कांग्रेस की नैय्या डुबाने वाले कांग्रेस में ही बैठे हंै। उन्होंने इशारों-इशारों में हुड्डा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कुछ लोग जाती, धर्म को लेकर राजनीति करते रहे हैं और उन्हीं की वजह से कांग्रेस धड़ों में बंटती जा रही है। ऐसे नेता भारत को कांग्रेस मुक्त बनाने की राह आसान करेंगे। पत्रकारों से बातचीत में अशोक तंवर ने कांग्रेस से नाराज पार्टी के नेताओं के कश्मीर में हुए जी-23 सम्मेलन को गद्दार-23 बताया।

उन्होंने कहा कि जी-23 के नेता अपने आप को गांधी जी से प्रेरित बताते हैं वो गांधी की विचार धारा के आसपास भी नहीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के भीतर बैठे लोग ही कांग्रेस के टुकड़े करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में भाजपा की बी टीम बैठी है जो भाजपा के लिए काम रही है। उन्होंने कहा कि भारत को कांग्रेस मुक्त बनाने का सपना भी यही नेता साकार करवाएंगे। अलग से मोर्चा बनाने के बाद पहली बार रोहतक पहुंचे अशोक तंवर ने बताया कि 'अपना भारत मोर्चा' का लक्ष्य ग्रामीण परिवेश में रहने वाले युवाओं का विकास करना है। उन्होंने कहा कि दबे कुचले लोगो का विकास करना होगा। इसलिए इस नए मोर्चे की जरूरत पड़ी है।

हुड्डा हो या कोई भी नेता पार्टी विरोधी काम करे तो उसे बाहर करो

कांग्रेस हाईकमान से नाराज नेताओं के कश्मीर में हुए जी-23 के नाम से मशहूर सम्मेलन में नेताओं का विरोध होना शुरू हो गया है। सम्मेलन में गुलाम नबी आजाद, कपिल सिब्बल, राज बब्बर और भूपेंद्र हुड्डा जैसे नेताओं को लेकर स्थानीय नेताओ में रोष है। हरियाणा कांग्रेस के पूर्व मंत्री व प्रवक्ता कृष्ण मूर्ति हुड्डा ने कहा कि पार्टी के खिलाफ गतिविधियों में शामिल नेताओं को पार्टी से बाहर करना चाहिए। इसके लिए वे राहुल गांधी से भी मुलाकात करेंगे। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को लेकर भी बड़ा बयान दिया, कहा कि कोई भी नेता अगर कांग्रेस पार्टी के खिलाफ काम करता है उसे बाहर निकालो। इससे पहले हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर ने तो जी-23 नेताओं को गद्दार-23 नेताओं की संज्ञा दी है। उन्होंने तो यहां तक कह दिया था कि कांग्रेस पार्टी का नाम मिटाने वाले नेता खुद कांग्रेस पार्टी में बैठे हुए हैं।

Next Story