Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना के कारण फतेहाबाद में पशु मेला स्थगित

उपायुक्त डॉ. बांगड़ ने सभी किसानों व व्यापारियों से आग्रह किया है कि फतेहाबाद में रतिया रोड पर लगने वाले पशु मेला में आगामी आदेशों तक पशुओं को न लेकर आएं।

मुंहखुर व गलघोटू बीमारियों से बचाव के लिए 2.4 लाख पशुओं को लगाए जायेंगे टीके
X
पशु (प्रतीकात्मक फोटो)

हरिभूमि न्यूज. फतेहाबाद

कोरोना महामारी के मद्देनजर कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए उपायुक्त डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ ने जिल में रविवार को लगने वाले पशु मेले पर आगामी आदेशों तक स्थगित/रोक लगाने के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उपायुक्त डॉ. बांगड़ ने शुक्रवार को लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कोरोना महामारी से बचाव के लिए गहना से विचार विमर्श किया।

उपायुक्त ने बताया कि जिले में बढ़ते कोरोना केस तथा पशुपालन विभाग द्वारा ग्रीष्म ऋतु शुरू होने की वजह से पशुओं को विभिन्न प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लगने वाले पशु मेले में देश के विभिन्न राज्यों, प्रदेश के विभिन्न जिलों तथा आसपास के गांवों के किसान, व्यापारी अधिक संख्या में इक्ट्ठा हो जाते हैं, जिससे कोरोना महामारी के फैलने को और अधिक अंदेशा हो जाता है। सभी पहलुओं पर गहनता से विचार करते हुए जनहित को ध्यान में रखते हुए बीडीपीओ कम पशु मेला अधिकारी फतेहाबाद द्वारा आयोजित किए जाने वाला पशु मेला आगामी आदेशों तक स्थगित किया जाता है। उपायुक्त डॉ. बांगड़ ने सभी किसानों व व्यापारियों से आग्रह किया है कि फतेहाबाद में रतिया रोड पर लगने वाले पशु मेला में आगामी आदेशों तक पशुओं को न लेकर आएं। उन्होंने बताया कि किसान व व्यापारी जो पशु खरीद व बेचने का कार्य करते हैं वे जिला फतेहाबाद में लगने वाला पशु मेला जो प्रत्येक रविवार को लगता है आगामी आदेशों तक बंद किया जा रहा है इसलिए कोई भी व्यापारी या जमीदार पशु को मेले में न लेकर आएं।

Next Story