Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Air Pollution : हरियाणा में कोयले- लकड़ी से चलने वाली इंडस्ट्रीज और टायर जलाने वाली फैक्ट्रियां बंद रखने के आदेश

बढ़ते वायू प्रदूषण को देखते हुए हरियाणा में फिलहाल केवल सीएनजी, पीएनजी और साफ तेल से चलने वाली इंडस्ट्री को ही चलाने की छूट दी गई है। इस संबंध में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से कंपनियों को निर्देश जारी किए गए हैं।

दूषण का स्तर बेहद खराब श्रेणी में दर्ज, जानें आज का AQI
X

प्रदूषण का स्तर खराब श्रेणी में दर्ज

हरिभूमि न्यूज. जींद

लगातार जहरीली हो रही आबोहवा के चलते अब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने सख्त कदम उठाने शुरू कर दिया हैं। प्रदेशभर में वातावरण गड़बडाया हुआ है। जिसे देखते हुए हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने टायर जलाने वाली फैक्ट्रियों को अगले 15 दिन के लिए बंद रखने के आदेश जारी किए हैं। वहीं जहां निर्माण कार्य चल रहे हैं उन साइट का दौरा किया जा रहा है। बुधवार को हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एसडीओ मनीष यादव ने जींद में नगर परिषद के चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया और प्रदूषण से बचाव के लिए पानी का छिड़काव करते रहने के निर्देश दिए हैं।

कोयले व लकड़ी से चलने वाली इंडस्ट्रीज को 22 नवंबर बंद रखने के आदेश

फतेहाबाद। हरियाणा राज्य में दमघोंटू प्रदूषण पर रोकथाम के लिए हरियाणा सरकार ने अब कोयले या लकड़ी से चलने वाली इंडस्ट्रीज को बंद करने के आदेश जारी किए गए हैं। ऐसी इंडस्ट्रीज को 22 नवंबर तक बंद रखा जाएगा। केवल सीएनजी, पीएनजी और साफ तेल से चलने वाली इंडस्ट्री को ही चलाने की छूट दी गई है। इस संबंध में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से कंपनियों को निर्देश जारी किए गए हैं। सीनियर अधिकारियों की बैठक में यह भी तय किया गया है कि पानीपत थर्मल पावर प्लांट की दो यूनिट बंद की जा सकती हैं। इन यूनिट से 450 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है। इस पर केंद्र सरकार हरियाणा को 450 मेगावाट बिजली की सप्लाई करने को तैयार हो गई है। जैसे ही केंद्र से बिजली मिलेगी, वैसे ही पानीपत थर्मल प्लांट की दोनों यूनिट बंद की जाएंगी।

अब अगर हो बारिश या चले तेज हवा तो मिले राहत

पांडू पिंडारा कृषि विज्ञान केंद्र के मौसम विशेषज्ञ डा. राजेश ने बतााया कि ठंड बढ़ने के कारण धूल और धुएं की परत काफी नीचे आ गई है। हवा नहीं चलने और बारिश न होने के कारण धुआं एक जगह ठहरा हुआ है। एक दिन भी तेज गति से हवा चल जाए तो यह धुआं आगे चला जाएगा और आसमान साफ हो जाएगा।


Next Story