Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बायो डाइवर्सिटी पार्क के रखरखाव के लिए गुरुग्राम नगर निगम और हीरो मोटोकॉर्प में एमओयू

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सीएसआर फंड से विकसित किए गए तीन प्रोजेक्ट भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनता को समर्पित किए।

बायो डाइवर्सिटी पार्क के रखरखाव के लिए गुरुग्राम नगर निगम और हीरो मोटोकॉर्प में एमओयू
X

वर्चुअल बैठक लेते सीएम मनोहर लाल।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ( Cm Manohar Lal ) की वर्चुअल उपस्थिति में सोमवार को गुरुग्राम स्थित बायो डाइवर्सिटी पार्क के रखरखाव और विकास के लिए गुरुग्राम नगर निगम और हीरो मोटोकॉर्प के मध्य गुरुग्राम में एमओयूपर हस्ताक्षर किए गए। मुख्यमंत्री ने इस दौरान सीएसआर फंड से विकसित किये गए तीन प्रोजेक्ट भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनता को समर्पित किये। मुख्यमंत्री मनोहर लाल चंडीगढ़ से हरियाणा स्टेट सीएसआर ट्रस्ट की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि समय की आवश्यकता के हिसाब से कुछ विषय उभरकर आते हैं। सीएसआर फंड का इस्तेमाल समाज के ऐसे विषयों के लिए किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि आज हमारे सामने स्वच्छता, पर्यावरण संरक्षण, पानी का प्रबंधन और युवा स्किलिंग ऐसे विषय हैं, जिन पर अधिक ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है। इनमें युवाओं की स्किल डेवलपमेंट बड़ा विषय है। उन्होंने कहा कि हरियाणा स्टेट सीएसआर ट्रस्ट की कल्पना इसी को ध्यान में रखते हुए की गई है। इस मौके पर हीरो मोटोकॉर्प के साथ समझौते पर हस्ताक्षर गुरुग्राम नगर निगम के कमिश्नर विनय प्रताप ने किए और समझौता पत्रों का कम्पनी के साथ आदान प्रदान किया गया। मुख्यमंत्री ने आज जिन तीन प्रोजेक्टों को जनता को समर्पित किया, वे तीनों इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा स्थापित किये गए हैं।

इनमें फतेहाबाद जिले के चार गांवों में 368 सोलर लाइट और आठ आरओ प्लांट लगाए गए हैं। इन पर एक करोड़ 59 लाख रुपये की लागत आई है। मेवात इंजीनियरिंग कॉलेज नूंह में दो सोलर पावर प्लांट एक 100 किलो वाट और एक 22.5 किलो वाट के स्थापित किये गए हैं। इन पर 59 लाख 70 हजार रुपये खर्च हुए हैं। इसके अलावा नूंह जिले के 310 युवक़ों को स्किल डेवलपमेंट (रिटेल, सेल्स, मार्केटिंग और टेलरिंग) की ट्रेनिंग दी गई है जिस पर 65 लाख रुपये खर्च हुए हैं। बैठक में बताया गया कि बायो डाइवर्सिटी पार्क को पुरानी माइनिंग साइट पर एनजीओ की मदद से विकसित किया गया है। इस अर्बन फारेस्ट (बायो डाइवर्सिटी पार्क) में गत दिनों किये गए सर्वे में 200 से अधिक पशु पक्षियों की प्रजातियों के बारे में पता चला है। हीरो मोटोकॉर्प के सीएमडी डॉ. पवन मुंजाल ने इस दौरान कहा कि इस पार्क की देखरेख की जिम्मेदारी हमें दिया जाना हमारे लिए गर्व की बात है। उन्होंने गुरुग्राम को रोल मॉडल के रूप में विकसित करने के लिए सहयोग करने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई। वे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में जुड़े थे।



Next Story